फ़्लॉप फ़िल्मी पारी के बाद टीवी पर विजेंद्र

रणविजय सिंह, ईशा देओल, विजेंद्र सिंह

मुक्केबाज़ विजेंद्र सिंह मशहूर टीवी रियलिटी शो रोडीज़ में जज के तौर पर अपनी भूमिका शुरू कर चुके हैं.

हालांकि फ़िल्मों में उनका आग़ाज़ धमाकेदार नहीं रहा था.

उनकी पहली फ़िल्म 'फ़गली' फ़्लॉप हो गई थी और समीक्षकों के साथ-साथ दर्शकों ने भी विजेंद्र की एक्टिंग की जमकऱ आलोचना की थी.

फ़्लॉप रही फ़िल्मी शुरुआत

इमेज कॉपीरइट FUGLY

विजेंद्र ने बीबीसी से कहा, "मैं इस शो में प्रतियोगी के तौर पर आ चुका हूं. इस शो के जज रघु राम और राजीव का मैं बड़ा प्रशंसक रहा हूं. उनकी जगह लेकर मैं बड़ा उत्साहित हूं."

शो के मौजूदा सत्र में पुराने जज रणविजय सिंह तो हैं हीं उनके अलावा विजेंद्र सिंह, ईशा देओल और करण कुंद्रा भी जज की भूमिका में हैं.

अपनी फ़्लॉप फ़िल्मी शुरुआत को स्वीकार करते हुए उन्होंने कहा, "हां, कई लोगों ने मुझसे कहा कि उन्हें फ़िल्म अच्छी नहीं लगी. लेकिन मुझे लगा कि टीवी पर कुछ नया करने को मिलेगा. तो क्यों ना करूं टीवी."

'नहीं मांगा पुरस्कार'

इमेज कॉपीरइट HOTURE

कुछ दिनों पहले विजेंद्र का नाम तब विवाद में आया था जब ऐसी ख़बरें आईं कि बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल का नाम पद्म भूषण सम्मान के लिए नामांकित होने के बाद विजेंद्र सिंह ने भी खेल मंत्रालय से अपने नाम की सिफ़ारिश इस सम्मान के लिए करने को कहा था.

विजेंद्र ने इस बात को बेबुनियाद बताया.

उन्होंने कहा, "मैंने कभी कोई सम्मान नहीं मांगा. क्या मैं आज भारत रत्न मांगू तो मुझे मिल जाएगा? सम्मान मांगने से नहीं मिलता, उसे अर्जित करना पड़ता है."

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार