एआईबी रोस्ट: अश्लील या बेहतरीन हास्य?

एआईबी इमेज कॉपीरइट AIB

इंटरनेट पर एआईबी नॉकआउट के वीडियो पर अश्लीलता का आरोप लगाकर ब्राह्मण एकता मंच नामक संगठन ने मुंबई के साकीनाका पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है.

सेंसर बोर्ड के सदस्य फ़िल्मकार अशोक पंडित ने करण जौहर, रणवीर सिंह, अर्जुन कपूर और सोनाक्षी सिन्हा जैसी फ़िल्मी शख़्सियतों की मौजूदगी वाले इस शो की तीखी आलोचना की है और इसे बेहद भद्दा और अश्लील बताया है.

बीबीसी ने एआईबी के सदस्यों तन्मय भट्ट, रोहन जोशी और आशीष शाक्य से बात करनी चाही, लेकिन उन्होंने फ़ोन कॉल्स का जवाब नहीं दिया.

(देखिए: क्या कहते हैं युवा)

ट्विटर पर एआईबी ने अपनी प्रतिक्रिया में लिखा, "कई जगह ख़बरें आ रहीं हैं कि राज्य सरकार हमारे शो की जांच कराएगी. हमारे पास अब तक ऐसी कोई सूचना नहीं है. हमें पता चलेगा तो हम आपको ज़रूर बताएंगे."

वहीं करण जौहर ने शो के आलोचकों को जवाब देते हुए ट्विटर पर लिखा, "नॉट योर कप ऑफ़ टी. डोंट ड्रिंक."

सरकार की प्रतिक्रिया

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption एआईबी के शो में अर्जुन कपूर और सोनाक्षी सिन्हा जैसी हस्तियां मौजूद रहीं.

पहले ऐसी ख़बरें आईं थीं कि महाराष्ट्र सरकार भी शो की जांच कराएगी.

लेकिन राज्य के संस्कृति मंत्री विनोद तावड़े ने ट्वीट किया, "हम सिर्फ़ इस बात की जांच कराएंगे कि एआईबी ने ज़रूरी अनुमति ली थी या नहीं. अगर उनका शो क़ानून के हिसाब से था तो हम कोई मॉरल पोलिसिंग नहीं करेंगे. हम उन्हें रोक नहीं सकते."

इंटरनेट पर वायरल हुए इस शो में करण जौहर, अर्जुन कपूर और रणवीर सिंह को ऐसी भाषा का इस्तेमाल करते देखा गया जो कई लोगों को बेहद आपत्तिजनक और अश्लील लगी.

शो में करण जौहर और इन दोनों कलाकारों के कथित भद्दे चुटकुलों पर सोनाक्षी सिन्हा और दीपिका पादुकोण जैसी हीरोइनों को ज़ोर-ज़ोर से ठहाके लगाते देखा गया.

युवा वर्ग की राय

इमेज कॉपीरइट Vinod Tawde Twitter
Image caption महाराष्ट्र के संस्कृति मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि अगर शो क़ानून के मुताबिक़ था तो सरकार कोई कार्रवाई नहीं करेगी.

इस मुद्दे पर युवा वर्ग की राय मिली-जुली है.

मुंबई के श्रीकांत से जब पूछा गया कि क्या इस तरह के वीडियो से युवा वर्ग पर बुरा असर पड़ेगा तो श्रीकांत ने कहा, "युवा वर्ग तो पहले से ही बिगड़ा हुआ है. और क्या बिगड़ेगा. मुझे तो ये वीडियो बड़ा मज़ेदार लगा."

वहीं अनुश्री और सिद्धी नाम की दो छात्राओं के मुताबिक़ ये वीडियो बड़े मज़ेदार हैं और उन्हें इनमें कुछ भी आपत्तिजनक नहीं लगा.

अनुश्री कहती हैं, "जब ये सेलेब्रिटी अपनी निजी ज़िंदगी की बातें बिना किसी हिचक के सबके सामने कर रहे हैं तो भला हमें इससे क्या समस्या हो सकती है. इंटरनेट पर इससे भी ज़्यादा गंदी चीज़ें मौजूद हैं. मुझे नहीं लगता कि इससे कोई बच्चा बिगड़ेगा."

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption शो को लेकर युवाओं की मिली जुली राय है

लेकिन राघवन नाम के एक कॉलेज छात्र इससे जुदा राय रखते हैं.

वो कहते हैं, "मैं ये वीडियो देखने के बाद बड़ा व्यथित हूं. अब मैं इन कलाकारों की कोई फ़िल्म नहीं देखूंगा. निजी ज़िंदगी में आप कुछ भी करो. लेकिन उसे सार्वजनिक मंच पर ऐसे परोसना ग़लत है."

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार