200 किलो का फ़िल्मी हीरो!

  • 23 फरवरी 2015
इमेज कॉपीरइट Universal PR

सिक्स और ऐट पैक एब्स के ज़माने में अगर कोई वज़नदार अभिनेता फ़िल्म के लीड रोल में दिखे, तो पहली बार में ज़रूर अखरेगा.

अपनी होम प्रोडक्शन फ़िल्म 'हे ब्रो' से बॉलीवुड के मशहूर कोरियोग्राफ़र गणेश आचार्य फ़िल्मों में क़दम रख रहे है. इस हीरो के न सिक्स पैक्स हैं न ऐट, वज़नदार ज़रूर हैं.

'भाग मिल्खा भाग' के 'मस्तों का झुंड' गीत की कोरियोग्राफ़ी के लिए 61वें नेशनल अवार्ड विजेता गणेश आचार्य अपनी होम प्रोडक्शन फिल्म "हे ब्रो" में जुड़वां भाई का किरदार निभा रहे हैं.

इसके लिए 160 किलो के गणेश आचार्य ने 40 किलो और बढ़ाकर दो सौ का आंकड़ा पार किया है.

'फ़िल्मो में अक्सर हीरो वज़न घटाते हैं लेकिन हीरो बनने के लिए मैंने 30-40 किलो वज़न बढ़ाया है.

इमेज कॉपीरइट Universal PR

फ़िल्म में जहां मेरा जुड़वां भाई मनिंदर तंदरुस्त पुलिस वाला है, वहीं उसके विपरीत मैं 200 किलो का हूं'

'बिरजू' में दिग्गज

20 साल के सफल कोरियोग्राफ़ी करियर में गणेश आचार्य ने बॉलीवुड के कई दिग्गजों के साथ काम किया और उनका स्नेह पाया.

फ़िल्म के प्रमोशनल गाने 'बिरजू' में अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, अजय देवगन, ऋतिक रोशन, रणवीर सिंह और प्रभु देवा नज़र आए.

इस पर गणेश कहते है 'यह तो फ़िल्म इंडस्ट्री का आशीर्वाद है कि इतने बड़े सितारों ने एक गाने के लिए वक़्त निकाला और मुझे सहयोग देने पहुंचे. अमित जी के साथ मैंने फ़िल्म 'तूफ़ान' में असिस्टेंट कोरियोग्राफ़र से काम शुरू किया था और आज वे मेरे परिवार का हिस्सा हैं.'

इमेज कॉपीरइट Universal PR

'फ़िल्म में गोविंदा का भी एक छोटा सा सीन है, जहां वह शराबी का किरदार निभा रहे है. सब कहते हैं गोविंदा जी बहुत इंतज़ार करवाते हैं पर मेरी शूटिंग में ऐसा कुछ नहीं हुआ.'

कोरियोग्राफ़ी हुई मुश्किल

गणेश आचार्य मानते हैं कि आज के ज़माने में कोरियोग्राफ़र का इंडस्ट्री में टिके रहना बेहद मुश्किल हो गया है और कोरियोग्राफ़ी बेहद कठिन हो गई हैं.

पहले निर्देशक निर्माता खुद गाने के प्रॉप्स का चयन करते थे अब ये सारा भार कोरियोग्राफ़र पर आ गया है.

इमेज कॉपीरइट Universal PR

गाने में इस्तेमाल होने वाले कपड़े और लाइट का चयन भी कोरियोग्राफ़र को ही करना पड़ता है.

सेक्स कॉमेडी नहीं

फ़िल्म इंडस्ट्री में तेज़ी से बदलाव आ रहा है. सेक्स कॉमेडी फ़िल्में आए दिन बन रही हैं लेकिन गणेश आचार्य हमेशा पारिवारिक फ़िल्में ही बनाना चाहते हैं.

उनके मुताबिक़ वे सेक्स कॉमेडी में अपना हाथ कभी नहीं आज़माएंगे क्योंकि वह एक पारिवारिक व्यक्ति हैं और घर पर सभी के साथ फ़िल्म देखना पसंद करते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार