शिव 'बनने की इच्छा': अक्षय कुमार

अक्षय कुमार इमेज कॉपीरइट PR

अभिनेता अक्षय कुमार ने हिन्दी फ़िल्म इंडस्ट्री में 24 साल पूरे कर लिए हैं. अक्षय ने अपने लंबे करियर में एक्शन और कॉमेडी फ़िल्मों के साथ-साथ एनीमेशन फ़िल्में भी की हैं.

अक्षय का कहना है कि उन्होंने इंडस्ट्री में कई फ़िल्में दोस्ती-यारी में भी की लेकिन अब उन्होंने ऐसा करना छोड़ दिया है.

अक्षय ने कहा, "दोस्ती यारी में काफी गलत फ़िल्में साइन कर ली थीं लेकिन दर्शकों के प्रति आपकी ज़िम्मेदारी होती है, अच्छी फ़िल्म देना आपकी ड्यूटी होती है. अब मैं दोस्ती-यारी में कोई फ़िल्म नहीं करता.’’

‘उम्मीद न पालें’

इमेज कॉपीरइट PR

अक्षय कुमार अपने दर्शकों से अनुरोध करते हैं कि वो उनकी फ़िल्मों से कोई विशेष उम्मीद ना रखें.

उनका कहना है, "पता नहीं आप क्या सोचकर आएंगे. किसी भी कलाकार के लिए बहुत मुश्किल हो जाता है. मैं अपनी हर फ़िल्म को इस तरह से करता हूँ कि उस फ़िल्म का मेरे पिछले किसी फ़िल्म से कोई नाता नहीं है.’’

अक्षय के मुताबिक वो बड़े बजट की फ़िल्में इसलिए नहीं करते ताकि अगर फ़िल्म पिट जाए तो निर्माता दबाव में न आए.

किस्मत के धनी

क़रीब 100 फ़िल्में कर चुके अक्षय कुमार मानते हैं कि फ़िल्म इंडस्ट्री में सफल होने के लिए अच्छी क़िस्मत का होना बेहद ज़रूरी है.

अपनी किस्मत का आभार जताते हुए अक्षय कहते हैं, "इंडस्ट्री में 70 प्रतिशत किस्मत और 30 प्रतिशत मेहनत होती है."

वो कहते हैं, "स्टूडियो के बाहर कई ऐसे लोगो को देखता हूँ जो मुझसे ज्यादा मेहनती, टैलेंटेड, मुझसे बेहतरीन दिखने वाले हैं पर मेरे पास क़िस्मत है जो उनके पास नहीं है." .

भगवान शिव बनने की इच्छा

इमेज कॉपीरइट PR

'ओ माय गॉड' फ़िल्म में भगवान कृष्ण की भूमिका निभाने के बाद अक्षय कुमार बड़े पर्दे पर भगवान शिव बनने की इच्छा है.

अक्षय ने बताया, "मेरी नानी बचपन में पौराणिक गाथाओं पर बनी फ़िल्में दिखाती थी जैसे जय संतोषी माँ, संपूर्ण रामायण. भारतीय की माइथोलॉजी बहुत धनी है और मैं पौराणिक कहानियों पर फ़िल्में ज़रूर करना चाहूंगा."

वो कहते हैं, "मैं शिव भक्त हूँ और भगवान शिव का किरदार निभाना चाहूंगा. भगवान शिव को मैं इस ज़माने का 'कूल डूड'' बनाकर दिखाना चाहूंगा."

गब्बर इज़ बैक

इमेज कॉपीरइट viacom18motionpictures

अक्षय कुमार आने वाली फ़िल्म "गब्बर इज़ बैक" में भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए एक नया तरीका बता रहे है.

अक्षय का मानना है कि देश में सज़ा का कोई ख़ौफ़ नहीं है इसलिए अपराध बढ़ रहे हैं.

'गब्बर इज़ बैक' साउथ की फिल्म रामना की रीमेक है. फ़िल्म में अक्षय के साथ श्रुति हसन भी हैं. फिल्म का निर्देशन साउथ के नेशनल अवार्ड विजेता निर्देशक कृष कर रहे है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार