मोम में ढले आशा भोंसले और शरद पवार

  • 16 अप्रैल 2015
आशा भोसले इमेज कॉपीरइट NANDINI PR

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम के एमसीए लाउंज में गुरुवार को शरद पवार और आशा भोंसले के मोम के पुतलों का अनावरण किया गया.

इमेज कॉपीरइट NANDINI PR

इनकी मोम की प्रतिमाएं बनाने का प्रस्ताव नितिन देशमुख ने सुझाया था और 15 साल से मोम के पुतले बनानेवाले जानेमाने कलाकार सुनील कंदलूर ने आशा भोंसले और शरद पवार को मोम में ढालने का काम किया. सुनील का लोनावला में एक वैक्स म्यूज़ियम भी है.

इमेज कॉपीरइट NANDINI PR

इस मौक़े पर शरद पवार ने कहा कि ''मुझे आशा भोंसले के गाए सभी गाने पसंद हैं, ये मेरे लिए सम्मान की बात है कि मेरी पसंदीदा गायिका की मोम की प्रतिमा का अनावरण मेरे सामने हुआ है.''

इमेज कॉपीरइट NANDINI PR

वहीं इस अनावरण समारोह में पहुंची आशा भोंसले ने कहा कि ''मुझे पिछले कई वर्षों में बहुत से ख़िताब और सम्मान मिले लेकिन कभी किसी ने मेरी प्रतिमा नहीं बनाई थी. मैं शरद पवार जी का इस सम्मान के लिए शुक्रिया अदा करती हूं.''

इस मौक़े पर अन्य लोगों के साथ सुनील ततकारी, छगन भुजबल, जीतेंद्र अवहद और विनोद तावड़े मौजूद थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार