जेल में नहीं कटी सलमान की रात

  • 6 मई 2015
इमेज कॉपीरइट AP

12 साल पुराने हिट एंड रन मामले में मुंबई की एक अदालत ने सलमान ख़ान को दोषी क़रार देते हुए पाँच साल क़ैद की सज़ा सुनाई है.

लेकिन बॉम्बे हाई कोर्ट ने उन्हें 48 घंटों के लिए अंतरिम राहत दी है.

इससे पहले दिन में जैसे ही सलमान को सज़ा का ऐलान हुआ, सलमान नीचे बैठ गए और रोने लगे.

मुंबई सत्र अदालत के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश डीडब्लू देशपांडे ने कहा कि सलमान ख़ान पर ग़ैर इरादत हत्या का मामला साबित हुआ है.

उन्होंने कहा कि सलमान ही नशे में गाड़ी चला रहे थे और उनके ख़िलाफ़ सभी आरोप सही साबित हुए हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ जब जज ने सलमान को दोषी क़रार दिया, उस समय सलमान की आँखों में आँसू आ गए.

'मानवता विरोधी नहीं हूँ'

इमेज कॉपीरइट AFP

जज देशपांडे ने फ़ैसला सुनाते समय एलेस्टर परेरा और बीएमडब्लू मामले में संजीव नंदा केस का हवाला दिया.

बीबीसी संवाददाता मधु पाल के मुताबिक़ सज़ा पर बहस के दौरान सलमान ने कहा कि वो काफ़ी वक्त से मानवता के लिए काम कर रहे हैं, इस काम को ध्यान में रखा जाए, वो किसी भी तरह से मानवता विरोधी नहीं है.

सलमान ने कहा कि वो अगर जेल जाते हैं तो उनके अलावा कई लोगों को नुकसान होगा क्योंकि उनके उपर लगभग 200 करोड़ रूपए की ज़िम्मेदारी है.

सलमान ने ये भी कहा कि वो कान के इंन्फेक्शन से जूझ रहे हैं और जेल में जाने से ये गंभीर हो सकता है.

मायूसी

इमेज कॉपीरइट AFP

सलमान ख़ान के भाई सोहेल ख़ान और दोस्त बाबा सिद्दीकी साथ में बाहर आए लेकिन मीडिया से बात करने से मना कर दिया

सोहेल ख़ासे गुस्सा नज़र आ रहे थे और एक मीडियाकर्मी को मारने दौड़े. सलमान के परिवार ने बात करने से बिल्कुल मना कर दिया है.

सलमान ख़ान के घर के बाहर मौजूद आयुष देशपांडे का कहना है सलमान के घर के बाहर ज्यादा भीड़ नहीं है, सलमान के फ़ैन्स का कहना है कि मायूसी है.

आरोप

सलमान ख़ान पर आरोप था कि 28 सितंबर 2002 की रात उन्होंने नशे में अपनी गाड़ी फुटपाथ पर सो रहे लोगों पर चढ़ा दी थी, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई और चार अन्य घायल हो गए थे.

सलमान ख़ान ने इन आरोपों के इनकार किया था. सलमान का कहना था कि हादसे के समय वे न गाड़ी चला रहे थे और न ही नशे में थे.

सलमान के ड्राइवर अशोक सिंह ने भी अदालत से कहा कि उस दिन वही गाड़ी चला रहे थे और गाड़ी का टायर फटने के कारण ये हादसा हुआ.

सरकारी वकील का कहना है कि उन्होंने सलमान ख़ान के ख़िलाफ़ 27 गवाह पेश किए. उनका ये भी आरोप है कि सलमान हादसे के बाद मौक़े से भाग गए थे और न ही उन्होंने पुलिस को ही इस बारे में सूचित किया था. लेकिन सलमान का कहना था कि वे 15 मिनट तक घटनास्थल पर मौजूद थे.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार