सल्लू से 'दबंग' बनने तक का सफ़र

  • 6 मई 2015
सलमान ख़ान इमेज कॉपीरइट Youtube

बॉलीवुड के दबंग ख़ान माने जाने वाले सलमान ख़ान ने जब साल 1988 में फ़िल्म 'बीवी हो तो ऐसी' से अपने अभिनय की शुरूआत की थी उस वक़्त फ़िल्म में उनकी आवाज़ डब की गई थी.

लेकिन जब दूसरे साल ही सूरज बड़जात्या की फ़िल्म 'मैंने प्यार किया' रिलीज़ हुई तो फ़िल्म इंडस्ट्री को उसका 'प्रेम' मिल गया.

बॉलीवुड में उन्हें क़दम रखे 27 साल हो चुके हैं. इत्तेफाक़ से वो फिर से सूरज बड़जात्या कि फ़िल्म 'प्रेम रतन धन पायो' में 'प्रेम' का किरदार निभा रहे हैं. लेकिन आज हालात काफ़ी बदल चुके हैं जानिए ये रिपोर्ट.

बॉलिवुड के प्रेम सलमान

इमेज कॉपीरइट RajshriProductions

सूरज बड़जात्या के संस्कारी किरदार 'प्रेम' को निभा कर सलमान ख़ान ने दर्शको का दिल जीत लिया. फ़िल्म 'मैंने प्यार किया' में अपने प्यार भाग्यश्री को पाने के लिए पिता की दौलत को लात मार कर मेहनत करने वाले सलमान ख़ान में आम दर्शकों में से काफ़ी को अपनी छवि दिखी थी.

वो साल 1993 तक लवर बॉय और एक्शन हीरो के मिले जुले रूप में दिखते रहे. सलमान की बॉडी बिल्डिंग की इमेज ने कई जिम मालिकों की चांदी करवाई.

इन सालों में बॉलीवुड के इस हीरो ने बाग़ी, सनम बेवफ़ा और साजन जैसी हिट फ़िल्में दीं. तब तक बॉलिवुड के 'प्रेम' से कोई कंट्रोवर्सी नहीं जुड़ी थी.

टॉप हीरो सलमान

इमेज कॉपीरइट Agency

सलमान ख़ान ने रिकॉर्ड तोड़ सफ़लता हासिल की 1994 में आई फ़िल्म 'हम आपके हैं कौन' के साथ. इस फ़िल्म ने बॉक्स ऑफ़िस पर सबसे ज़्यादा कमाई का रिकॉर्ड 7 सालों तक क़ायम रखा और सलमान बॉलीवुड के टॉप हीरो में से एक गिने जाने लगे.

इस फ़िल्म के बाद सलमान ने शाहरूख ख़ान के साथ 'करण अर्जुन' की और दोनों को साथ देखने के लिए जैसे दर्शक सिनेमाघरों में उमड़ पड़े.

उसके बाद आईं उनकी 1996 में ख़ामोशी, 1997 में जुड़वा, 1998 में प्यार किया तो डरना क्या और सुपर हिट रहीं.

सलमान की सफलता का सफ़र शुरू हो चुका था लेकिन सफ़लता परेशानियाँ भी लेकर आई.

परेशानी में सलमान

इमेज कॉपीरइट Rajshriproductions

साल 1998 में जोधपुर में फ़िल्म 'हम साथ साथ हैं' कि शूटिंग के दौरान सलमान फ़िल्म की स्टारकास्ट के साथ शिकार खेलने निकले जहां उन्होनें तथाकथित तौर पर एक काले हिरण का शिकार किया.

इस मामले में उनपर अवैध हथियार रखने और एक सरंक्षित प्राणी की हत्या करने का आरोप है जिससे वो आज भी जूझ रहे हैं.

हालांकि इस हादसे के बाद सलमान की ज़िंदगी में राहत बन कर आई फ़िल्म 'हम दिल दे चुके सनम'. न सिर्फ़ ये फ़िल्म हिट रही बल्कि इस फ़िल्म के साथ सलमान की प्रेम कहानी शुरू हुई विश्व सुंदरी ऐश्वर्या राय के साथ.

साल 2002 में सलमान

इमेज कॉपीरइट AP

शायद 1999 से साल 2002 का समय सलमान ख़ान के जीवन का सबसे ख़राब समय था और ख़ासतौर पर साल 2002 उनके लिए बड़ा भारी साबित हुआ.

सलमान की फ़िल्में 'चोरी चोरी चुपके चुपके' और 'हर दिल जो प्यार करेगा' बॉक्स ऑफ़िस पर औसत प्रदर्शन कर पाई. साल 2002 में जब उनका ऐश्वर्या राय से ब्रेकअप हुआ तो सलमान कि छवि एक हीरो से विलेन में तब्दील होने लगी.

ऐश्वर्या राय से संबंध टूटने के बाद उन पर ऐश्वर्या राय को फ़ोन और मैसेज के ज़रिए धमकाने का आरोप भी लगा.

मु्श्किल में सलमान

आरोप ये भी लगा कि उन्होंने ऐश्वर्या को लेकर विवेक ओबरॉय को धमकी दी थी. विवेक ने सलमान के एक फ़ोन की रिकॉर्डिंग जब सार्वजनिक कर दी तो सलमान, विवेक के अघोषित दुश्मन माने जाने लगे.

लेकिन साल 2002 का सबसे बड़ा झटका आने वाला था, 28 सितंबर की रात सलमान पर आरोप लगा कि उन्होंने मुंबई में शराब के नशे में गाड़ी चलाते हुए 5 लोगों को कुचल दिया जिनमें से एक की मौत हो गई. सलमान को इस घटना के लिए 12 साल बाद, 5 साल की जेल की सज़ा सुनाई गई है.

गुस्से में सलमान

इमेज कॉपीरइट dabang 2 pr

सलमान ख़ान अपनी लेट लतीफ़ी के लिए तो मशहूर थे ही लेकिन हम साथ साथ हैं के बाद वो अपने गुस्से के लिए भी मशहूर हो गए. उनके पत्रकारों पर ग़ुस्से की ख़बरें भी कई बार छपे हैं.

कई बार उनका फ़ोटोग्राफ़रों से झगड़ा हुआ, यहां तक कि उनके अच्छे दोस्त शाहरूख़ ख़ान से भी उनकी एक बर्थ डे पार्टी में लड़ाई हो गई.

सलमान के करीबी दोस्तों ने बताया, "सलमान काफ़ी गुस्से में रहने लगे थे, वो बेहद मूडी हो गए थे और किस बात पर वो हंसेंगे और किस पर बिगड़ जाएंगे कोई नहीं बता सकता था."

ऐसी ख़बरें फ़िल्मी मैगज़ीन ने छापी कि उनके ग़ुस्से का आलम ये था कि एक बार फ़िल्म 'चलते चलते' कि शूटिंग के दौरान वो ऐश्वर्या से लड़ने पहुंच गए थे, सलमान कि इस हरक़त का ख़ामियाज़ा ऐश्वर्या को फ़िल्म गंवा कर चुकाना पड़ा था.

दंबंग सलमान

इमेज कॉपीरइट Prabhudeva

साल 2009 सलमान के लिए सुनहरा रहा जब उनकी फ़िल्म 'वांटेड' ने कमाल का बिज़नेस किया और इसके बाद साल 2010 में आई दंबंग की रिकॉर्डतोड़ कमाई ने सलमान को एक अलग ही लीग में खड़ा कर दिया.

'दंबंग', 'रेडी' और 'बॉडीगार्ड' की सफ़लता ने सलमान ख़ान को बॉलीवुड का सबसे महंगा हीरो बना दिया. सलमान ख़ान के नाम के आगे ये बात जुड़ गई कि उनको फ़िल्म में लेने का मतलब फ़िल्म का सुपरहिट होना है और इसका सबूत थी फ़िल्में एक था टाईगर, दबंग 2, और किक.

सलमान ख़ान ने छोटे पर्दे पर भी बिग बॉस को होस्ट कर इस शो को टीआरपी की लिस्ट में सबसे उपर पहुंचा दिया और इस शो को सीज़न 7 में कौन बनेगा करोड़पति से भी ज्यादा व्यूरशिप मिली.

इमेज कॉपीरइट AFP

सलमान ख़ान के कई रंग हैं. हाल ही में वे श्रीलंका गए तो तमिल संगठनों की नाराज़गी मोल ली. वे कभी मोदी के साथ पतंग उड़ाते नज़र आते हैं लेकिन उनका समर्थन नहीं करते.

सलमान पर बिग बॉस के दौरान महिला प्रतिभागियों के प्रति अशिष्ट रवैया अपनाने के भी आरोप लगे.

इमेज कॉपीरइट AP

फ़िल्म इंडस्ट्री में 27 साल गुज़ार चुके दबंग ख़ान का सफ़र अब एक नए मोड़ पर है. इस कहानी में 'दोषी सलमान' का पन्ना भी जुड़ गया है लेकिन क्या ये सलमान कि मुश्किलों का अंत है? क्योंकि जल्द ही काले हिरण मामले में भी सलमान के खिलाफ़ सुनवाई होने वाली है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार