देव-दिलीप-शाहरुख़ संग फ़िल्में, पर हैं फटेहाल लाचार

इमेज कॉपीरइट satish kaul

हिंदी और पंजाबी फ़िल्मों में अपने काम से चर्चा पाने वाले अभिनेता सतीश कौल आज गुमनामी की ज़िंदगी बिता रहे हैं.

300 से ज़्यादा फ़िल्में करने वाले सतीश कौल ने दिलीप कुमार, देव आनंद, अमिताभ बच्चन और शाहरुख़ ख़ान जैसे सितारों के साथ फ़िल्में की हैं.

पर वक़्त की मार ऐसी कि आज ना तो उनके सिर पर छत है और न ही खाने के पैसे.

बुरा वक़्त

इमेज कॉपीरइट satish kaul

एक साल पहले बाथरूम में फिसलने से लगी चोट के चलते सतीश ठीक होने के बावजूद अभी तक अस्पताल में रहने को मजबूर हैं क्योंकि उनके पास अस्पताल के बाहर ठिकाना नहीं है.

बीबीसी से बातचीत में उन्होनें बताया, "मैं पहले एक प्राईवेट अस्पताल में था लेकिन वहां इलाज के लिए पैसे ज्यादा थे इसलिए पटियाला के एक छोटे से अस्पताल में भर्ती हो गया."

सतीश कहते हैं, "बुरा वक़्त मुझ पर भारी रहा. मेरी पत्नी मुझसे कई साल पहले तलाक लेकर मेरे बेटे के साथ दक्षिण अफ्रीका चली गई. हैदराबाद में एक बहन है लेकिन वो खुद इतने तकलीफ में हैं, वो मेरी क्या मदद कर पाएगी?"

सतीश ने बताया कि उनकी जमापूंजी खर्च हो चुकी है और इस वक्त अस्पताल में उनका इलाज इंसानियत के नाते हो रहा है

मदद की गुहार

इमेज कॉपीरइट satish kaul

बंद दरवाज़ा (रामसे ब्रद्रर्स), आग ही आग (धर्मेंद्र), वारंट (देव आनंद) जैसी फ़िल्मों में काम कर चुके सतीश को बॉलीवुड से किसी का सहारा नहीं मिला.

पंजाबी गायक हरभजन मान और पटियाला के कुछ लोगों को छोड़कर सतीश से मिलने कोई नहीं आया.

सतीश कहते हैं, "कई लोगों ने मेरी हालत देख कर वादे तो किए, लेकिन निभाया किसी ने नहीं. अब 70 का हो चुका हूं और इसी उम्मीद में जी रहा हूं कि शायद मेरे काम को देख कर कोई मेरी थोड़ी मदद कर दे."

सतीश पटियाला के ज्ञानसागर अस्पताल में भर्ती हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार