गुस्से में आकर ट्वीट कर दियाः आलोक नाथ

  • 30 जून 2015
इमेज कॉपीरइट aloknath

अभिनेता आलोक नाथ ने वामपंथी नेता कविता कृष्णन पर किए गए अपने विवादित ट्वीट के लिए अफ़सोस जाहिर किया है. उन्होंने कविता के एक ट्वीट पर जवाबी ट्वीट किया था.

आलोक नाथ ने बीबीसी से कहा, "कभी-कभी इंसान से गुस्से में या तकलीफ़ में ऐसी अनहोनी हरकत हो जाती है, उसका एहसास भी हो जाता है बाद में, मुझे मेरी ग़लती का एहसास हुआ और मैंने अपना ट्वीट वापस ले लिया."

सोमवार को कविता कृष्णन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बेटियों के साथ सेल्फ़ी पोस्ट करने की अपील पर टिप्पणी की थी. इसके बाद उसे लेकर सोशल मीडिया पर हंगामा मच गया.

इमेज कॉपीरइट Reuters

प्रधानमंत्री की अपील के बाद कविता ने नरेंद्र मोदी के साथ सेल्फ़ी शेयर करने के पहले सावधानी बरतने की सलाह दी थी.

आलोक नाथ ने कविता के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए उनके लिए अपशब्द का प्रयोग किया था और उन्हें जेल भेजने की मांग की थी. हालांकि उन्होंने बाद में अपना ट्वीट हटा दिया.

आलोक नाथ ने कहा कि 'औरत की मर्यादा होती है और मुझे ही नहीं किसी को भी किसी महिला के विषय में ऐसा नहीं कहना चाहिए.'

पब्लिसिटी स्टंट?

इमेज कॉपीरइट alok nath

आलोक नाथ का ट्वीट क्या कोई पब्लिसिटी स्टंट था?

आलोक नाथ ने कहा, "मेरे दिल को बहुत धक्का लगा था क्योंकि मैंने भी अपनी बेटी की तस्वीर लगाई है और बड़ी खुशी से ये भी कहा कि बेटियां हमारे लिए कितना महत्व रखती हैं, वे हमारा सम्मान हैं."

उन्होंने कहा, "तभी एक ट्वीट आता है जिसमें कहा गया कि अगर आप अपनी बेटी की तस्वीर लगा लेंगे तो हमारे देश का प्रधानमंत्री आपकी बेटियों पर निगरानी रखेगा, उन्हें परेशान करेगा तो यह मुझे बड़ी ग़लत बात लगी और उस ग़ुस्से में आकर मैंने ट्वीट कर दिया."

आलोक नाथ ने कहा, "मुझे तो ये भी नहीं पता कि ये कविता कौन हैं?"

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार