विदेशी मुद्रा मामले में 'राहत' को राहत

इमेज कॉपीरइट Ayush

हाल ही में पाकिस्तानी गायक राहत फ़तेह अली ख़ान को भारत के प्रवर्तन निदेशालय के दिए समन के चलते पूछताछ के लिए भारत आना पड़ा.

7 अगस्त को प्रवर्तन निदेशालय के दिल्ली स्थित मुख्यालय में अधिकारियों ने उनसे 10 घंटो तक पूछताछ की.

राहत दिल्ली से सीधे अपने आगामी बॉलीवुड प्रोजेक्टस पर बात करने के लिए मुंबई आए थे और यहीं वे बीबीसी के मुंबई स्टूडियो भी आए और विस्तार से मामले की जानकारी दी.

1.24 लाख डॉलर

पाकिस्तानी गायक को साल 2011 में भारतीय अधिकारियों ने दिल्ली एयरपोर्ट पर 1.24 लाख डॉलर की अघोषित रक़म के साथ रोका था क्योंकि इस रक़म से जुड़े कागज़ात उनके पास नहीं थे.

अब तीन साल बाद राहत इस मामले से जुड़े सभी काग़ज़ात लेकर भारत में ईडी के दफ़्तर पहुंचे राहत ने बीबीसी को बताया, "ये मामला दरअसल मेरे मरहूम भारतीय मैनेजर चित्रेश श्रीवास्तव से जुड़ा हुआ है. जिस दिन ये पैसा मुझे मिला इससे जुड़े कागज़ात चित्रेश के पास थे और हमारी फ़्लाइट के समय तक तक चित्रेश दिल्ली नहीं आ सके और बाद में उनका निधन हो गया."

'राहत'

इमेज कॉपीरइट Ayush

राहत ने कहा कि उन्होनें अधिकारियों के सभी सवालों के जवाब दिए. साथ ही वो काग़ज़ात भी जमा किए जो उस रक़म से संबंधित थे.

भारतीय प्रवर्तन निदेशालय की ओर से अधिकारियों ने बयान दिया है कि राहत ने उनके सभी सवालों के 'संतोषजनक' उत्तर दिए हैं और इस रक़म से जुड़े ज़रूरी दस्तावेज़ देने के साथ साथ उन्होनें 'फ़ेमा' कानून के तहत अपना बयान भी दर्ज करवा दिया है.

राहत फ़िलहाल अपने नए अलबम के रिलीज़ की तैयारी कर रहे हैं और सितंबर महीने में वो भारत में लाइव कंसर्ट करने वाले हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार