'आमिर मामू बड़े इमोशनल हैं'

  • 3 सितंबर 2015

बॉलीवुड अभिनेता आमिर ख़ान हाल ही मेें अपने भांजे इमरान ख़ान की फ़िल्म 'कट्टी बट्टी' देखकर इतने भावुक हो उठे कि उनके आँसू ही नहीं रुके .

ऐसा नहीं हैं कि ये पहली बार हुआ हो. आमिर पहले भी सलमान ख़ान की फ़िल्म 'बजरंगी भाई जान' को देख कर रो पड़े थे.

इस तरह बार-बार भावुक होने के चलते ट्विटर पर आमिर के आँसुओ का ख़ूब मज़ाक़ बनाया गया.

अपने मामा आमिर ख़ान का मज़ाक़ उड़ने पर इमरान ख़ान ने कहा "मामू बड़े इमोशनल हैं".

इमरान ख़ान ने बीबीसी से कहा, "हम लोग जब फ़िल्म देखते है तो उसे देख खुलकर हँसते और खुल कर रोते भी हैं. वहीं अगर फ़िल्म डरावनी हैं तो हम डरते भी हैं."

वो कहते हैं, "मैं भी ऐसा ही हूं. खुलकर हँसता और रोता हूँ. हम फ़िल्म को एक आम आदमी की नज़र से देखते हैं, ना कि किसी फ़िल्म समीक्षक की तरह."

कमाई से मतलब नहीं

आमिर ख़ान की फ़िल्में 300 करोड़ कमा रही हैं तो इमरान लगातार दो साल से फ़िल्मों से दूर हैं.

वो कहते हैं कि अपने मामा की तरह बड़ा स्टार बनने में उनकी कोई दिलचस्पी नहीं हैं.

इमरान कहते है, "मुझे यह जानने में कोई दिलचस्पी नहीं हैं कि किसने कितनी कमाई की. मुझे बॉक्स ऑफ़िस से कोई लेना देना नहीं हैं क्योंकि मेरे हाथ में सिर्फ़ काम करना हैं. फ़िल्म अच्छी होगी तो चलेगी, अगर अच्छी नहीं हुई तो नहीं चलेगी फिर चाहे हम कितने ही ढोल क्यों ना बजा लें."

इमरान कहते हैं कि उन्हें अपनी लगातार तीन फ़िल्में, 'मटरू की बिजली का मन डोला', 'वन्स अपॉन ए टाइम इन मुंबई द्वितीय' और 'गोरी तेरे प्यार में' फ़्लॉप हो जाने का कोई अफ़सोस नहीं है.

वे कहते हैं, "आजकल ऐसा कोई अभिनेता नहीं है जिनकी लगातार तीन से चार फ़िल्में फ़्लॉप ना रही हो."

वो कहते हैं, "मुझे फ़िल्में देखने और बनाने का शौक़ हैं लेकिन मेरी शोहरत और लोकप्रियता में दिलचस्पी नहीं हैं. कुछ लोग एक्टर बनते हैं क्योंकि वो स्टार बनना चाहते हैं लेकिन मैं स्टार नहीं बनना चाहता."

स्क्रिप्ट में बदलाव

इमेज कॉपीरइट FIRSTPOST

इमरान ख़ान की दो फ़िल्में 'जाने तू या जाने ना' और 'डेल्ही-बेली' उनके मामा आमिर ख़ान प्रोडक्शन के बैनर में बनी और दोनों ही फ़िल्में कामयाब भी रहीं.

इस पर इमरान ख़ान कहते हैं, "मामू दिल से फ़िल्में बनाते हैं इसलिए चलती हैं. करण जौहर और यशराज बैनर वाले भी दिल से फ़िल्म बनाते हैं."

वो कहते हैं, "मैं जब विशाल भारद्वाज और मिलन लुथरिया जैसे निर्देशकों के साथ काम कर रहा था तब सब लोगों ने कहा कि कितना समझदार हैं इमरान, कितनी सही फ़िल्में चुन रहा हैं, लेकिन जब वो फ़िल्में फ़्लॉप हुई तो मीडिया और इंडस्ट्री ने ही कहा, कितनी गंदी फ़िल्में चुनता हैं."

वो आगे कहते हैं, "ये वो फ़िल्में हैं जिनकी स्क्रिप्ट जब मुझे सुनाई गई तो कुछ और थी, लेकिन शूटिंग शुरू होने के बाद उनमें बदलाव हो गए थे."

फ़िलहाल इमरान अपनी आने वाली फ़िल्म 'कट्टी बट्टी' के प्रमोशन में व्यस्त है, जो 18 सितंबर को रिलीज़ हो रही हैै.

इस फ़िल्म में इमरान के साथ कंगना भी दिखेंगी और फ़िल्म का निर्देशन निखिल अडवाणी ने किया हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार