'दीपिका का लक मुझे मिले न कि मेरा दीपिका को'

इमेज कॉपीरइट NG entertainment

रणबीर कपूर और दीपिका पादुकोण फ़िल्म 'ये जवानी है दीवानी' के बाद फिर साथ आ रहे हैं और इस बार निर्देशक इम्तियाज़ अली के साथ.

फ़िल्म तमाशा का ट्रेलर मंगलवार को मुंबई में रिलीज़ हुआ और फ़िल्म के ट्रेलर पर 'तमाशा' भी हुआ.

इमेज कॉपीरइट bbc

सबसे पहले तो स्टेज पर फ़िल्म के हीरो रणबीर कपूर की जगह दीपिका के साथ एक छोटा बच्चा आया जिसने खुद को फ़िल्म का हीरो बताया.

कुछ देर बाद रणबीर खुद पहुंचे और उन्होंने कमान संभाली.

हद पार न करें

रणबीर ने बताया कि वो इस फ़िल्म में इम्तियाज़ के साथ काम करने को लेकर बहुत खुश हैं. दीपिका के साथ वो 5 साल बाद काम कर रहे हैं जिसे लेकर वो उत्साहित हैं.

रणबीर की 'तमाशा' से उनकी काफ़ी उम्मीदें जुड़ी हैं.

उन्होंने कहा कि इस फ़िल्म से जुड़ी किसी बात का वो तमाशा नहीं बनाना चाहते.

रणबीर ने साफ़ किया,"फ़िल्म का नाम 'तमाशा' है और मुझे खुशी है कि मैं इसका हिस्सा हूं लेकिन मेरी निजी ज़िंदगी को लोग जब तमाशा बनाने लगते हैं तो दिक्कत होती है."

रणबीर ने कहा कि उन्हें तमाशा पसंद है क्योंकि वो शो बिज़नेस का हिस्सा हैं लेकिन सिर्फ़ एक हद तक, और वो हिदायत भी देते हैं कि लोग हद पार न करें.

रणवीर - रणबीर की तुलना नहीं

इस फ़िल्म से पहले अभिनेत्री दीपिका पादुकोण कह चुकी हैं कि वो मानती हैं कि स्क्रीन पर वो रणबीर कपूर के साथ सबसे अच्छी दिखती हैं.

लेकिन तमाशा के ट्रेलर लॉन्च पर पूछे गए इस सवाल का जवाब दीपिका ने घुमा दिया, "आप दो लोगों में से किसी एक को चुन नहीं सकते, रणबीर और रणवीर में कोई तुलना नहीं हो सकती क्योंकि दोनों लोगों के साथ काम करते हुए मैंने अलग किरदार निभाए हैं."

रणबीर कपूर ने भी दीपिका के साथ सहमति जताई.

उन्होंने कहा, "देखिए हम केमिस्ट्री और जोड़ी की तुलना किसी फ़िल्म की सफलता से करते हैं और फ़िल्में किरदारों से होती हैं. दो अभिनेताओं की तुलना या दो जोड़ियों की तुलना संभव नहीं है."

फ़्लॉप का बोझ

रणबीर कपूर की पिछली तीन फ़िल्में फ़्लॉप रहीं. ऐसे में वो चाहते हैं कि इस फ़िल्म को दर्शक मिलें.

वो कहते हैं, "दीपिका और मेरी फ़िल्में चली हैं और मैं चाहता हूं कि इस बार भी किस्मत हमारे पक्ष में रहे और दीपिका का लक मुझे मिले न कि मेरा दीपिका को."

रणबीर ने कहा कि वो पिछली फ़िल्मों की असफलता को पूरी तरह से दिमाग से निकाल कर आए हैं और इस बारे में बिल्कुल भी नहीं सोच रहे क्योंकि बुरा वक़्त सभी का आता है, जाता भी है.

फ़िलहाल तो इस फ़िल्म का ट्रेलर और गीत सोशल मीडिया पर आए हैं. सिनेमाघरों में फ़िल्म नवंबर महीने में रिलीज़ होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं. )

संबंधित समाचार