फ़िल्म इंडस्ट्री में रंगभेद: कोंकणा

  • 25 सितंबर 2015
तलवार फ़िल्म इमेज कॉपीरइट spice

कुछ समय पहले अभिनेत्री नंदिता दस ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उनके रंग के कारण उन्हें कई फ़िल्में नहीं मिलीं.

अपनी संजीदा और गंभीर अदाकारी के लिए जानी जाने वाली अभिनेत्री कोंकणा सेन शर्मा ने भी माना कि फ़िल्म इंडस्ट्री में रंग को लेकर भेदभाव होता है.

बीबीसी से ख़ास बातचीत में कोंकणा ने कहा, "मुझे कई फ़िल्में नहीं मिलीं पर क्यों नहीं मिलीं, मुझे पता नहीं कि इसका कारण मेरा रंग है या कुछ और. मेरा इस भेदभाव से कभी साक्षात्कार नहीं हुआ लेकिन फ़िल्म इंडस्ट्री में ये मौजूद ज़रूर है और इसकी शिकार मेरी बहन और भांजी हुई हैं."

गोरेपन के कारोबार पर अपना ग़ुस्सा और अफ़सोस जताते हुए कोंकणा ने कहा, "मुझे समझ नहीं आता हमें गोरा क्यों होना है? इसलिए कि हम पर गोरों ने राज किया? मुझे तो ये समझ नहीं आता कि सिर्फ़ गोरे बनने के लिए इतनी बड़ी इंडस्ट्री बन गई है, जो इतना पैसा बना रही है."

'मानसिक दिवालियापन'

इमेज कॉपीरइट spice

'मिस्टर एंड मिसेज़ अय्यर', 'पेज 3', 'लाइफ इन मेट्रो', 'लक बाय चांस', 'वेक उप सिड' जैसी फ़िल्मों में संजीदा किरदार निभाने वाली कोंकणा कहती हैं, ''हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री में 70 के दशक में महिलाओं के बेहतरीन किरदार दर्शाए गए थे."

वो कहती हैं, "70 के दशक में आर्ट हाउस सिनेमा अपनी चरम पर था जब 'भूमिका' जैसी फ़िल्में बनी जो महिलाओं की मानसिकता को दर्शाती थी."

आज के दौर पर टिप्पणी करते हुए कोंकणा ने कहा , "कुछ ऐसे फ़िल्मकार हैं जो महिलाओं के किरदारों को संवेदनशीलता से अपनी फ़िल्मों में दर्शाते हैं पर हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री में कमर्शियल फ़िल्म की मोनोपोली बनी हुई है जिसमें किसी की भी मानसिकता से उन्हें कोई लेना देना नहीं है."

कम हिंदी फ़िल्में?

2013 में आई फ़िल्म 'एक थी डायन' के बाद कोंकणा ने हिंदी फ़िल्म से थोड़ा ब्रेक लेकर अपना रुख़ बंगाली फ़िल्मों की तरफ किया.

इस पर कोंकणा कहती हैं, 'एक थी डायन' के बाद मैं इंतज़ार कर रही थी अच्छी हिंदी फ़िल्म ऑफर का लेकिन कुछ ख़ास ऑफर नहीं आए और बंगाली फ़िल्मों में ऐसे किरदार मुझे मिल रहे थे जो अभिनेत्री के तौर मुझे संतुष्टि दे रहे थे. मैं बेवक़ूफ़ाना हिंदी फ़िल्म के बजाए बेहतरीन बंगाली फ़िल्म करना चाहूंगी."

इमेज कॉपीरइट spice

मेघना गुलज़ार की फ़िल्म 'तलवार' आरुषि हत्याकांड की जांच पड़ताल पर आधारित है. इस फ़िल्म में कोंकणा नुपूर तलवार के किरदार में दिखेंगी. फ़िल्म में इरफान ख़ान भी अहम भूमिका निभा रहे है. 'तलवार' फ़िल्म की हाल ही में टोरंटो इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल में प्रदर्शनी हुई, जहां फ़िल्म ने दर्शकों की तारीफें बटोरी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार