मरते वक्त भी रोमांस करूंगा: इरफ़ान

बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपने अभिनय का लोहा मनवा चुके अभिनेता इरफ़ान ख़ान को फ़िल्मों में रोमांस न करने का मलाल है.

लगभग हर तरह का किरदार निभा चुके इरफ़ान ख़ास तौर पर संजीदा रोल करने के लिए पहचाने जाते हैं.

बीबीसी से ख़ास बातचीत में इरफ़ान अपने किरदारों के बारे में कहते हैं, "मुझे यह ग़लतफ़हमी थी कि मैं अगर अभिनेता बन जाऊंगा तो महिलाओं के दिल पर राज करूंगा, पर ऐसा कुछ नहीं हुआ."

इरफ़ान अपनी अधूरी इच्छा को व्यक्त करते हुए कहते हैं, "मैं अगर अपनी आखिरी सांस ले रहा होउंगा तब भी रोमांस करने को राज़ी हो जाऊंगा, क्योंकि रोमांस आपको ज़ीवित रखता है और आपकी ऊर्जा बढ़ाता हैं."

इरफ़ान का कहना है कि वो फ़िल्मों में इस तरह के क़िरदार के लिए हमेशा तैयार हैं.

'रेस में नहीं'

जहा एक तरफ़ ख़ान तिकड़ी बॉलीवुड में खुद को नंबर एक साबित करने की होड़ में लगी है, वहीं इरफ़ान अपने आप को इस दौड़ से बाहर मानते हैं.

इस प्रतिस्पर्धा पर इरफ़ान कहते हैं, "मैं ऐसी किसी दौड़ में शामिल नहीं हूँ और अगर हूँ भी तो मैं खुद को सबसे पीछे मानता हूँ."

वो अपना मुकाबला खुद से ही मानते हैं और कहते हैं, "मैंने बॉलीवुड में अपनी जगह अपने काम से बनाई हैं, मैं सिर्फ फ़िल्मों में अभिनय करता हूँ और कुछ नहीं."

'तलवार'

इमेज कॉपीरइट spice

फ़िलहाल इरफ़ान अपनी फ़िल्म 'तलवार' के प्रमोशन में व्यस्त हैं जो 2 अक्तूबर को रिलीज़ हुई है.

मेघना गुलज़ार द्वारा निर्देशित इस फ़िल्म में इरफ़ान के साथ अभिनेत्री कोंकणा सेन भी नज़र आएंगी.

एक सच्ची घटना पर आधारित इस फ़िल्म और उसके विवादों पर इरफ़ान कहते हैं, "जब मैंने इस फ़िल्म की स्क्रिप्ट पढ़ी तो ऐसी कई बातें थीं जो मुझे पता नहीं थीं."

उनके मुताबिक़, "सच की तलाश करना हमारा फ़र्ज़ बनता है और अगर हम ऐसा नहीं कर रहे हैं तो हम एक मृत व्यक्ति की तरह हैं."

वो कहते हैं, "कुछ सालों पहले ऐसी फ़िल्में बनाने का काम थोड़ा मुश्किल था, लेकिन अब दर्शक इस तरह की फ़िल्में पसंद करते हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार