डोनट्स ने इस दिवाली कम की लड्डू की मिठास

इमेज कॉपीरइट chirantana

दिवाली की पारंपरिक शुद्ध भारतीय मिठाईयों की जगह चॉकलेट और नमकीन गिफ़्ट के तौर पर देने का का प्रचलन तो कुछ सालों पहले ही शुरू हो गया था लेकिन आजकल महानगरों के एक तबक़े में डोनट्स, कपकेक्स, मैकरुन्स और स्वीट शॉट्स जैसी चीज़े देने का चलन भी देखने में आ रहा है.

विदेशी माने जाने वाले डेज़र्ट्स ख़ुब लोकप्रिय हो रहे हैं.

मुंबई की बेकरी 'स्वीट बड्ज़' के कारमेन डिसूज़ा बताते हैं, "पश्चिमी डेज़र्टस पहले से ही लोकप्रिय रहा है, पर इस साल लोग इन्हें त्योहार में तोहफ़े के तौर पर दे रहे हैं."

कारमेन कहती हैं, "मिठाईयों में मिलावट हो सकती है लेकिन बेकरी आईट्म्स की गुणवत्ता के चलते उन्हें दीवाली गिफ़्ट के तौर पर देने के लिए कंपनियों से ऑर्डर आ रहे हैं."

देशी मिठाईयों के दुकानदार नए चलन के मुताबिक़ ढलने की कोशिश कर रहे हैं. जैसे विदेशी कपकेक्स में इलायची और मावा का मिलाया जाना या फिर बूंदी से बने केक पर श्रीखंड की फ्रॉस्टिंग जैसे प्रयोग हो रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट chirantana

बेकरी प्रोडक्ट्स को हर ग्राहक के टेस्ट के मुताबिक़ भी तैयार करने की सुविधा है.

एक ग्राहक चिनमई दवे कहते हैं, "इनमें चीनी की मात्रा मैं अपने हिसाब से रखवा सकता हूँ, जो मेरे और मेरे परिवार की सेहत के लिए बेहतर है."

फ़्रेंच बेकरी 'ले15 पटीसरे' की संचालक पूजा ढींगरा के मुताबिक़, "पारंपरिक लाल-पीले बक्सों की जगह ग्राफ़िकल डिज़ाइन वाले पैकेट लोगों को अधिक आकर्षक लगते हैं. पैकेजिंग पर भेंट देने वाले का प्रिंटेड नाम भी डाला जा सकता है."

पूजा कहती हैं, "न्युटेला ब्राऊनीज़, चीज़केक मैकरून्स और सॉल्टैड कैरेमल टार्ट्स जैसे कुछ डैज़र्ट्स, जो अभी तक सिर्फ़ विदेशी लक्ज़री के रूप में देखे जाते हैं इस दिवाली लोगों को बेहद पसंद आ रहे हैं."

इमेज कॉपीरइट chirantana

वैसे ये सारी चीज़े मिठाई से ज्यादा क़ीमती होती हैं.

अभी तक तो ये ट्रेंड बड़े शहरों में ही नोटिस किया जा रहा है लेकिन हैरान मत होईएगा अगर अगली दिवाली में आपको मिठाई के डब्बों में डोनट्स मिलें.

हैप्पी दिवाली!

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार