'एक्‍ट‍िंग का कीड़ा शुरू से मेरे भीतर था'

इमेज कॉपीरइट disney

बॉलीवुड गाय‍िका सुनिधि चौहान एनीमेटेड फ़ि‍ल्‍म ‘फ़्रोज़न’ की मुख्‍य क‍िरदार ‘एल्‍सा’ की आवाज़ बनी हैं. साथ ही उन्होंने फ़ि‍ल्‍म का एक गाना भी गाया है.

इसी सिलसिले में बीबीसी से हुई उनकी ख़ास मुलाक़ात. उन्‍होंने अपने कर‍ियर के उतार-चढ़ाव समेत भविष्‍य की योजनाओं के बारे में भी बताया.

सुनिधि चौहान सिर्फ़ एक गाय‍िका नहीं, बल्‍क‍ि वे र‍िएलिटी शो की जज से लेकर मेंटर तक की भूम‍िका निभा चुकी हैं.

हो सकता है कि जल्‍द ही वे रुपहले परदे पर मुख्‍य भूम‍िका में भी नज़र आएं.

इमेज कॉपीरइट devries global

खुद को ऑलराउंडर की भूम‍िका में ढालने में लगी सुनिधि का मानना है, "मुझे नहीं लगता ऑलराउंडर बनने में कोई बुराई है, यह आपके लिए बेहतर होता है."

2013 में आई ऐनिमेटेड फ़िल्म 'फ़्रोज़न', सुनिधि की पहली फ़ि‍ल्‍म नहीं थी.

इससे पहले 2011 में रिलीज़ हुई फ़ि‍ल्‍म 'र‍ियो' में वे मुख्य किरदार 'ज्‍वेल' की आवाज़ बनी थीं, पर इसके सीक्‍वेल 'र‍ियो 2' में 'ज्‍वेल' की आवाज़ अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा ने दी.

लेक‍िन सुनिधि का मानना है, "ज्‍वेल पर मेरी आवाज़ ज़्यादा फ़ब रही थी."

सुनिधि ने चार साल की उम्र से गाय‍िकी के क्षेत्र में क़दम रखा और उसके बाद स‍िंग‍िंग रिएलिटी शो 'मेरी आवाज सुनो' को भी जीता.

इमेज कॉपीरइट global devries

उन्‍हें महज 16 साल की उम्र रामगोपाल वर्मा की फ़ि‍ल्‍म ‘मस्‍त’ में 'रुकी रुकी सी ज़िंदगी' गाने का मौक़ा म‍िला. इसके लिए उन्‍हें कई पुरस्‍कार भी मिले.

वहीं सिर्फ़ 18 साल की उम्र में माता-प‍िता की बिना मंजूरी के सुनिधि ने निर्देशक बॉबी खान से शादी कर ली. हालांकि शादी साल भर भी न चल पाई.

लेक‍िन यह बिखराव उनके कर‍ियर के ल‍िए भी काफ़ी भयावह रहा. गाय‍िकी से कुछ दिनों की दूरी ने उनके करियर की गाड़ी को धीमा कर दिया.

ऐसे में कुछ गायक तेज़ रफ़्तार से आगे चले गए. लेक‍िन सुनिधि ने न स‍िर्फ़ खुद को संभाला, बल्‍क‍ि दोगुने रफ़्तार से बढ़ने की कोश‍िश में जुट गईं.

इमेज कॉपीरइट global diverse

अब उन्‍होंने खुद की आज़माइश हर क्षेत्र में शुरू कर दी है. वॉयस ओवर आर्टि‍स्‍ट हो या र‍िएलिटी शो की जज या मेंटर. वे प्रत‍ियोग‍िता के बारे में कहती हैं, "जब से दुनिया बनी है, तब से ही प्रत‍ियोगिता है. ज‍िनमें कुछ ख़ास होगा. वही बने रहेंगे."

वे भव‍िष्‍य के बारे में कहती हैं, "मैं ख़ुद को आने वाले 50 सालों में गाते हुए देखना चाहती हूं."

अभ‍िनय की ओर जगे अपने रुझान के बारे में वे कहती हैं, "एक्‍ट‍िंग का कीड़ा तो मेरे भीतर पहले से ही था. मेरे पिता एक्‍टर हैं. उनसे ही मुझमें जीन ट्रांसफ़र हुआ है."

इमेज कॉपीरइट global devries

उनके मुताबिक़ "प‍िछले डेढ़ साल से मैं अभ‍िनय को लेकर गंभीर हूं. हालांकि, अभी तक कोई स्‍क्रिप्‍ट फ़ाइनल नहीं की है. मैं सौ प्रत‍िशत देने में यकीन रखती हूँ जब भी फ़िल्म करूंगी तो मन लगाकर करूंगी."

सूनिधि ने हर सवाल का जवाब दिया, पर असहिष्‍णुता के मुद्दे पर वह राय देने से हिचकती नज़र आईं.

वह कहती हैं, "हर बात पर राय देने का फ़ायदा नहीं. जब मेरे कुछ कहने से कोई फ़र्क नहीं पड़ता, तो क्‍यों कुछ कहा जाए."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार