मुंबई में मिलीं ईसा पूर्व की 7 गुफाएं

इमेज कॉपीरइट supriya

मुंबई में बोरीवली स्थित संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान में सात नई गुफाएं मिली हैं.

पुरातत्व विभाग के अनुसार यह गुफाएं 5 से 6 ईसा पूर्व के समय की हैं.

इन गुफाओं पर खोज कर रहे मुंबई विश्वद्यालय के पुरातत्व विभाग की एक समिति ने वर्ष 2015 के फ़रवरी महीने में अपनी खोज संपन्न की.

इमेज कॉपीरइट supriya

बीबीसी से बात करते हुए मुंबई विश्वविद्यालय के पुरातत्व विभाग अध्यक्ष सूरज पंडित ने बताया, "हम पिछले 17 सालों से कान्हेरी गुफाओं पर खोज कर रहें हैं."

वे आगे कहते हैं, "पहले से मौजूद 101 गुफाओं के बाद अब 7 नई गुफाओं की खोज हुई हैं."

इमेज कॉपीरइट supriya

सूरज पंडित ने बताया कि खोज के दौरान पाई गई जानकारी के अनुसार ये गुफाएं लगभग 5 से 6 ई.पू के समय की हैं.

यह वो काल है जब यूरोप में रोमन साम्राज्य अपने अंत की ओर बढ़ रहा था और चीन में ख़ानाबदोश मंगोल और हूण जन जातियां मध्य चीन पर वर्चस्व के लिए आपस में लड़ रही थीं.

इन गुफाओं का ढांचा बेहद सरल है और प्राप्त जानकारी के मुताबिक इन गुफाओं को बौद्ध साधुओं ने मानसून के दौरान पानी से लबालब रहने वाले ढालू इलाकों से दूर रहने के लिए बनाया था.

इमेज कॉपीरइट supriya

इन गुफाओं के काल को अमेरिकी समय में उस काल से मिलाया जा सकता है जब वहां माया सभ्यता का वर्चस्व था.

भारत में पांचवी ईसा पूर्व में बड़े पैमाने पर बौद्धिक शिलालेख कला का विकास हुआ और यह विकसित भी हुआ लेकिन माया सभ्यता का धीरे धीरे अंत हो गया.

सूरज पंडित और उनके तीन सदस्यों द्वारा की गई इन गुफाओं की खोज के बाद अब भारत का पुरातत्व विभाग इनकी जांच और औपचारिक पत्रलेखन कार्य पूरा करने में जुट गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार