फ़ैन को थप्पड़, अब माफ़ी पर मची तकरार

  • 17 फरवरी 2016

एक प्रशंसक को थप्पड़ मारने का विवाद बॉलीवुड अभिनेता गोविंदा का पीछा नहीं छोड़ रहा है.

सुप्रीम कोर्ट गोविंदा को संतोष राय नाम के अपने इस प्रशंसक से माफ़ी मांगने का आदेश सुना चुका है. लेकिन संतोष का कहना है कि गोविंदा ने उनसे अब तक माफ़ी नहीं मांगी है.

उन्होंने बीबीसी को बताया कि 09 फ़रवरी को गोविंदा ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उन्होंने बिना शर्त माफ़ी मांग ली है और वो पांच लाख रुपए हर्जाना भी देने को तैयार हैं.

लेकिन गोविंदा को ग़लत ठहराते हुए संतोष कहते हैं कि उन्होंने उनसे अबतक माफ़ी नहीं मांगी है.

संतोष कहते हैं कि वो 12 फरवरी को जुहू के नोवोटेल होटल में गोविंदा से मिले थे, जहां गोविंदा ने बस इतना कहा, 'तुम तो मेरी वजह से फ़ेमस हो गए हो.'

साल 2008 में गोविंदा ने 'मनी है तो हनी है' की शूटिंग के दौरान संतोष राय को थप्पड़ मार दिया था.

इमेज कॉपीरइट santosh rai
Image caption संतोष राय का कहना है कि उन्हें 'मनी है तो हनी है' की शूटिंग के दौरान गोविंदा ने थप्पड़ मारा

माफी न मांगने की बात कितनी सही है, इस पर गोविंदा ने बीबीसी से कहा, ''अगर ये बात सही होती तो मैं आपसे कह देता कि ये सही है, पर जब सही नहीं है तो कैसे कह दूं कि सही है?''

वहीं, गोविंदा के सेक्रेटरी शशि सिन्हा ने बीबीसी से कहा कि गोविंदा ने संतोष से माफ़ी मांगी है और प्रेस के सामने भी मांगी है.

उनके मुताबिक़ संतोष राय से 12 फ़रवरी को 'ठीक-ठाक मुलाक़ात' हुई. इसमें गोविंदा ने संतोष से कहा, ''तुम्हें जो सही लगता है तुम बताओ मैं वैसा ही कर दूंगा और इस मामले को यहीं ख़त्म करते हैं.''

शशि के मुताबिक़, इस पर संतोष ने कहा कि वो अभी नहीं बता पाएंगे और उन्हें दो दिन का समय चाहिए.

शशि ने बताया कि 16 फरवरी को उन्होंने फिर से संतोष को फ़ोन किया, जिस पर संतोष ने 20 फरवरी को मिलने को कहा.

उन्होंने कहा कि इस बार वो गोविंदा को ख़ुद कोर्ट में लेकर जाएंगे ताकि इन सब बातों पर विराम लगे. इस मामले की अगली सुनवाई 14 मार्च को होनी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार