'एक हज़ार बच्चों को पीछे छोड़ पाया ये रोल'

  • 17 जून 2016
इमेज कॉपीरइट Parull Gossain

कई अंतरराष्ट्रीय फ़िल्म मेलों में अवॉर्ड जीत चुकी फ़िल्म ‘धनक’ में भाई बहन का मुख्य किरदार निभाने वाले बच्चों को लंबी चयन प्रक्रिया से गुज़रना पड़ा.

क़रीब 1000 बच्चों को पीछे छोड़ क्रिश छाबरिया और हेतल गाड़ा ने नागेश कुकनूर की फिल्म में काम करने का मौक़ा हासिल किया.

इमेज कॉपीरइट Parull Gossain

10 साल के क्रिश छाबरिया और 13 साल की हेतल गाड़ा ने बीबीसी से विशेष बातचीत में बताया कि दोनों किरदारों के लिए 500-500 लड़के लड़कियों के ऑडिशन हुए थे.

हेतल ने बताया, "ऑडिशन के कुल सात राउंड हुए थे जिसके बाद हमारा चयन हुआ और हम धनक के लिए भाई बहन बन गए."

मास्टर क्रिश इससे पहले कई एड फिल्मों में काम कर चुके हैं जबकि हेतल टेलीविज़न पर प्रसारित धारावाहिक 'सावधान इंडिया' में काम कर चुकी हैं.

इमेज कॉपीरइट Parull Gossain

फ़िल्म राजस्थान की पृष्ठभूमि पर आधारित भाई-बहन की कहानी है. फ़िल्म में क्रिश छोटू नाम के ऐसे बच्चे का किरदार निभा रहे हैं जो देख नहीं सकता.

‘छोटू’ शाहरुख़ ख़ान का फैन होता है और उसकी बड़ी बहन ‘परी’ उसे राजस्थान में शूटिंग के लिए आए शाहरुख़ ख़ान से मिलवाने ले जाती है.

पूरी फ़िल्म भाई बहन की इसी यात्रा की कहानी है.

इमेज कॉपीरइट Parull Gossain

हेतल बताती हैं, "मैं असल ज़िन्दगी में शाहरुख़ ख़ान की जबरा फैन हूं जबकि क्रिश सलमान ख़ान का, इस बात को लेकर अक्सर हम दोनों में झगडे होते रहते थे."

वे बताती हैं, "फ़िल्म के दौरान ही हमने अपने इस झगड़े को सुलझा लिए है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार