भूत और भगवान भी बटोरते हैं टीआरपी

  • 25 जून 2016

भले ही बुद्धू बक्से पर भूत, भगवान और तिलिस्म से भरे धारावाहिकों की आलोचना होती हो, लेकिन टीआरपी रिपोर्ट में ऐसे धारावाहिकों को अच्छी रेटिंग मिल रही है.

इस बार टीआरपी में कलर्स टीवी पर आने वाले धारावाहिक 'कवच...काली शक्तियों से' ने बहुत अच्छे नंबर हासिल किए हैं. मोना सिंह, विवेक दहिया और महक चहल की मुख्य भूमिका वाले धारावाहिक ने दर्शकों को बांधना शुरू कर दिया है.

इस धारावाहिक की धीरे-धीरे खुलती परतों ने दर्शकों की दिलचस्पी को बढ़ाना शुरू कर दिया है. अरसे बाद अभिनय के क्षेत्र में वापसी करने वाली महक चहल अपनी अदाकारी से काफ़ी प्रभावित कर रही हैं.

इमेज कॉपीरइट andtv

वहीं एंड टीवी पर प्रसारित होने वाले धारावाहिक 'संतोषी मां' को भी अच्छी तादाद में दर्शक मिल रहे हैं.

बीते दिनों कुछ दिनों से ख़बरें आ रही हैं कि धारावाहिक 'संतोषी मां' में संतोषी के किरदार निभा रही अभिनेत्री रतन राजपूत शो को अलविदा कह सकती हैं. यानी इस धारावाहिक में नया मोड़ आ सकता है.

अब रतन की इस शो से विदाई के बाद वापसी होती है या नहीं, यह तो वक़्त ही बताएगा. फ़िलहाल तो टीआरपी चार्ट में जगह बनाए हुए है.

लेकिन बात टीआरपी की रेस की हो रही है, तो इस बार भी स्टार प्लस का धारावाहिक 'ये हैं मोहब्बते' ही नंबर एक पर रहा. बीते सप्ताह इस धारावाहिक में दर्शकों को काफ़ी उतार-चढ़ाव देखने को मिला.

एक तरफ घर में कलह की वजह से रूही का घर आने को तैयार नहीं है लेकिन रूही को घर लाने के लिए रमन और इशिता की कोशिशें भी तेज़ हो रही थी.

इमेज कॉपीरइट Zee TV

इसके अलावा ज़ी टीवी का धारावाहिक 'कुमकुम भाग्य' इस सप्ताह नंबर दो की कुर्सी पर जमा हुआ है. जबकि नंबर तीन की कुर्सी पर स्टार प्लस का दूसरा धारावाहिक 'साथ निभाना साथिया' रहा.

अब यदि बात की जाए चैनल्स की तो पहले पायदान स्टार प्लस, दूसरे पर ज़ी टीवी और तीसरे पर कलर्स टीवी रहा.

इस बार युवा 'एम टीवी' को देखने में मशगूल रहे, जबकि बच्चे 'निक' के 'मोटू-पतलू', 'निंजा हथौरी' में व्यस्त रहे.

इन सबके अलावा कॉमेडी के बादशाह बन चुके कपिल शर्मा का सोनी एंटरटेंनमेंट पर आने वाला शो 'द कपिल शर्मा शो' पर मराठी फ़िल्म 'सैराट' की टीम आई थी. इसकी वजह से कपिल के शो को काफ़ी अच्छी रेटिंग मिली.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार