‘गदर’ के ‘जीते’ बड़े पर्दे पर उतरने को तैयार

  • 18 जुलाई 2016
इमेज कॉपीरइट Anil Sharma

साल 2001 में आई ब्लॉक बस्टर फ़िल्म ‘गदर’ में ‘जीते’ का किरदार निभाने वाले बाल कलाकार उत्कर्ष शर्मा जल्दी ही बतौर हीरो बड़े पर्दे पर आने वाले हैं.

उत्कर्ष निर्देशक अनिल शर्मा के बेटे हैं. अनिल शर्मा ने ‘गदर’, ‘अब तुम्हारे हवाले वतन साथियो’ जैसी फ़िल्मों का निर्देशन किया है.

अनिल शर्मा की पिछली फ़िल्म साल 2013 में आई सनी देओल की मुख्य भूमिका वाली ‘सिंह साब द ग्रेट’ थी.

तक़रीबन तीन साल के बाद अनिल एक बार फिर निर्देशक की कुर्सी पर बैठने जा रहे हैं और इस बार उनकी फ़िल्म के हीरो की भूमिका उनके बेटे उत्कर्ष निभाएंगे.

इमेज कॉपीरइट Anil sharma

अपनी आगामी फ़िल्म ‘जीनियस’ के बारे में बीबीसी से चर्चा करते हुए अनिल शर्मा ने कहा, ‘‘मैंने अपनी फ़िल्म के लिए उत्कर्ष को चुना है.’’

फ़िल्म के टाइटल के बारे में वो कहते हैं, ‘‘'जीनियस' का मतलब दिमाग़ से लड़ने वाला.’’

उसकी पृष्ठभूमि को समझाते हुए उन्होंने कहा, ‘‘इस फ़िल्म में आपको दिल की लड़ाई दिमाग़ से होते हुए दिखेगी.’’

वो कहते हैं कि फ़िल्म नवंबर तक फ्लोर पर आ जाएगी. हीरो तो तय हो ही चुका है, लेकिन हीरोइन की तलाश फिलहाल जारी है.

इमेज कॉपीरइट Sanjay Mishra

ग़ौरतलब है कि अनिल शर्मा को फ़िल्म इंडस्ट्री में 35 साल पूरे हो गए हैं. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत बाइस साल की उम्र में फ़िल्म ‘श्रद्धांजलि’ से की थी.

पहली फ़िल्म को याद करते हुए वो कहते हैं, ‘‘उस ज़माने में अपनी फ़िल्म में राखी गुलज़ार को काम करने के लिए मनाना बहुत बड़ी बात थी.’’

अनिल ने बताया, ‘‘मेरी फ़िल्म की कहानी राखी को इतनी पसंद आई कि उन्होंने तुरंत ही हां कर दी थी.’’

‘श्रद्धांजलि’ की साइनिंग का दिलचस्प क़िस्सा बताते हुए अनिल ने कहा कि राखी जी को मेरी उम्र को लेकर शंका थी.

इमेज कॉपीरइट anilsharma

उन्होंने बताया, ‘‘राखी जी ने कहा कि बाइस साल की उम्र में कोई फ़िल्म कैसे बना सकता है. हालांकि, बाद में मात्र एक हज़ार की साइनिंग राशि लेकर उन्होंने मेरी फ़िल्म के लिए हामी भी भर दी थी.’’

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार