BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
शनिवार, 27 जनवरी, 2007 को 20:43 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
बिग बी को फ़्रांसीसी नागरिक सम्मान
 
अमिताभ बच्चन
अमिताभ बच्चन इससे पहले भी कई बार राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मंचों पर सम्मानित हो चुके हैं
बॉलीवुड के जाने-माने अभिनेता अमिताभ बच्चन को फ्रांस सरकार ने अपने सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया है.

बिग बी को 'लीजन ऑफ़ ऑनर' का यह सम्मान शनिवार शाम दिल्ली स्थित फ्रांसिसी दूतावास में दिया गया.

'लीजन ऑफ़ ऑनर' फ्रांस सरकार की ओर से किसी भी फ्रांसिसी या विदेशी नागरिक को दिया जाने वाला सबसे बड़ा सम्मान है.

इससे पहले भारत से यह सम्मान महान फ़िल्मकार सत्यजित रे और सितार वादक पंडित रविशंकर को मिल चुका है.

सम्मान स्वीकार करने के बाद लोगों को संबोधित करते हुए अमिताभ बच्चन ने कहा, "मैं इस सम्मान के लिए फ्रांस की सरकार को धन्यवाद देता हूँ. दरअसल यह सम्मान केवल मेरा नहीं, बल्कि भारतीय सिनेमा जगत को मिला एक सम्मान है."

बिग..बिग..बिग बी

अमिताभ बच्चन को यह पुरस्कार देते हुए फ्रांस के राजदूत ने कहा कि भारतीय फ़िल्म जगत में अमिताभ के कद का शायद ही कोई दूसरा हो. वो नंबर एक अभिनेता हैं और भारत ही नहीं दुनिया भर में उनकी एक पहचान है.

 मैं इस सम्मान के लिए फ्रांस की सरकार को धन्यवाद देता हूँ. दरअसल यह सम्मान केवल मेरा नहीं, बल्कि भारतीय सिनेमा जगत को मिला एक सम्मान है
 
अभिनेता अमिताभ बच्चन

उन्होंने कहा कि सांस्कृतिक मूल्य राजनीतिक मूल्यों से भी बढ़कर होते हैं. फ़िल्म जगत को उन्होंने जो योगदान दिया है, उन्हें जो ऊँचाई हासिल है और उनके अभिनय की जो गुणवत्ता है, उसे देखते हुए ही उन्हें यह पुरस्कार दिया जा रहा है.

अमिताभ के साथ इस सम्मान समारोह में पूरा बच्चन परिवार नज़र आया. जया बच्चन, अभिषेक बच्चन और श्वेता बच्चन नंदा के साथ ही उनके बच्चे भी इस समारोह में पहुँचे.

अमिताभ इससे पहले भी कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मंचों पर सम्मानित हो चुके हैं. उन्हें हाल ही में दिल्ली विश्वविद्यालय ने मानद की उपाधि से सम्मानित किया था.

इंग्लैंड के वैक्स संग्रहालय में उनकी मोम की प्रतिमा लगाई गई है. बिग बी कई अतंरराष्ट्रीय संगठनों के ब्रांड एंबेसडर भी रह चुके हैं.

 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
बिग बी को एक और उपाधि
04 नवंबर, 2006 | पत्रिका
अमिताभ का जादू सर चढ़कर बोला
17 अप्रैल, 2005 | पत्रिका
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>