BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
गुरुवार, 18 सितंबर, 2008 को 08:35 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
क्रिकेट के बाद सिद्धू की एक और पारी
 

 
 
मेरा पिंड-माइ होम
सिद्धू का मानना है कि पंजाब के युवाओं को ध्यान में रखकर इसे तैयार किया गया है
पंजाब के अमृतसर से भारतीय जनता पार्टी के सांसद नवजोत सिंह सिद्धू एक नए अवतार में नज़र आ रहे हैं.

अभी तक वो क्रिकेटर, कमेंटेटर और टीवी के हास्य कार्यक्रम में जज के रूप में जाने जाते थे लेकिन अब वो एक नई भूमिका में हैं.

उनकी पंजाबी फ़िल्म 'मेरा पिंड-माइ होम' पंजाब में रिलीज़ हुई है और अब इसे देश के अन्य स्थानों पर इसे रिलीज़ किया जा रहा है.

इसमें नवजोत सिंह सिद्धू ने हीरो की भूमिका निभाई है.

गुरुवार को इसका विशेष प्रदर्शन दिल्ली में भाजपा नेताओं के लिए किया गया.

 मैंने मुहावरा बदल दिया है और मैं मास्टर आफ़ ऑल ट्रेड बन गया हूँ
 
नवजोत सिंह सिद्धू

ये फ़िल्म ब्रिटेन, कनाडा और अमरीकी में रिलीज़ हो गई है और सिद्धू की माने तो ये फ़िल्म इन देशों में भारी कमाई कर रही है.

सिद्धू बताते हैं कि उन्होंने इस फ़िल्म में एक एनआरआई की भूमिका निभाई है जो विदेश जाता है और छोटे मोटे काम धंधे करता है लेकिन भारत में काम धंधे के प्रस्तावों को ठुकरा देता है.

बाद में उसे इसका ज्ञान होता है और वह वापस अपने गाँव लौटता है और यहाँ काम शुरू करता है और अपने पिंड यानी गाँव की तरक्की में अहम भूमिका निभाता है.

'सोच बदलने की कोशिश'

सिद्धू कहते हैं ये फ़िल्म पंजाब के युवाओं के सोच को बदलने की एक कोशिश है.

मेरा पिंड
नवजोत सिंह सिद्धू का कहना है कि उन्होंने एक नई पारी खेली है

उनका कहना था,'' मेरा मानना है कि गाँव बदलेगा तो पंजाब बदलेगा, उससे हिंदुस्तान बदलेगा.''

फ़िल्म के एक अन्य कलाकार हरभजन मान हैं, सिद्धू कहते हैं कि फ़िल्म में उन्होंने ढाबा खोलकर और उसे सफलतापूर्वक चलाकर युवाओं के सामने एक उदाहरण पेश किया है.

अचानक फ़िल्म में हाथ आजमाने के सवाल पर सिद्धू का कहना था,'' मैंने मुहावरा बदल दिया है और मैं मास्टर आफ़ ऑल ट्रेड बन गया हूँ.''

फ़िल्म के निदेशक मनमोहन सिंह का कहना था कि पंजाब के युवाओं को ध्यान में रखकर ये फ़िल्म बनाई गई है.

उनका कहना था कि इस फ़िल्म के ब्रिटेन, कनाडा, अमरीका, ऑस्ट्रेलिया, न्यूज़ीलैंड और जर्मनी के 56 प्रिंट रिलीज़ किए गए हैं.

मनमोहन का कहना था कि फ़िल्म ने विदेशों में सात लाख डॉलर से अधिक की कमाई की है.

फ़िल्म की निर्माता बिग पिक्चर्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील खेत्रपाल का दावा है कि ये पंजाबी की अब तक की सबसे सफल फ़िल्म है.

 
 
पंजाबी नाटक लंदन में पंजाबी नाटक
लंदन में हिंदी और गुजराती के अलावा पंजाबी नाटक भी अपनी पहचान बना रहे हैं.
 
 
नानक सिंह 'पवित्तर पापी' अंग्रेज़ी में
नानक सिंह के मशहूर उपन्यास 'पवित्तर पापी' का अंग्रेज़ी में भी अनुवाद हुआ है
 
 
नवजोत सिंह सिद्धू 'तुलना सोरेन से न करें'
हत्या के दोषी पाए गए सिद्धू चाहते हैं कि उनकी तुलना शिबू सोरेन से न हो.
 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
लंदन में पैर पसारता पंजाबी थियेटर
19 दिसंबर, 2005 | मनोरंजन एक्सप्रेस
'आहिस्ता-आहिस्ता मिट जाएँगी दूरियाँ'
08 जुलाई, 2006 | मनोरंजन एक्सप्रेस
पर्ल पर आधारित फ़िल्म का प्रीमियर
15 जून, 2007 | मनोरंजन एक्सप्रेस
इस बार वैलेंटाइन डे पर तन्हा हूँ: मीका
13 फ़रवरी, 2007 | मनोरंजन एक्सप्रेस
'पवित्तर पापी' अब अँग्रेज़ी में भी
18 अक्तूबर, 2003 | मनोरंजन एक्सप्रेस
'रीमिक्स के नाम पर भद्दा मज़ाक'
30 सितंबर, 2005 | मनोरंजन एक्सप्रेस
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>