मुलायम ने रामगोपाल को फिर पार्टी से निकाला

  • 1 जनवरी 2017
इमेज कॉपीरइट Getty Images

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने रामगोपाल यादव को तीसरी बार पार्टी से निकाल दिया है.

मुलायम सिंह ने पार्टी कार्यकर्ताओं के नाम लिखी चिट्ठी में रामगोपाल को छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित करने की घोषणा की.

शनिवार को ही रामगोपाल यादव और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को पार्टी में वापस लिया गया था. इन दोनों को मुलायम सिंह ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पार्टी से छह साल से निकालने का एलान किया था.

पढ़ें-

क़ानूनन समाजवादी पार्टी का मुखिया कौन?

सोशल-'मुलायम और शिवपाल को अपनी मार्किट वैल्यू पता चल गई'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मुलायम सिंह यादव ने कार्यकर्ताओं को लिखी चिट्ठी में पाँच जनवरी को लखनऊ के जनेश्वर मिश्रा पार्क में पार्टी का अधिवेशन बुलाया है.

इमेज कॉपीरइट Shivpal Yadav Twitter

रविवार को पार्टी के एक धड़े ने जनेश्वर मिश्रा पार्क में अधिवेशन कर अखिलेश यादव को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष घोषित किया है.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
सपा संकट: लखनऊ के लोगों की राय

मुलायम सिंह यादव ने अपनी चिट्ठी में कहा है कि रविवार यानी एक जनवरी को हुआ अधिवेशन असंवैधानिक हैं. मुलायम ने रामगोपाल के बुलाए अधिवेशन में लिए गए निर्णयों को भी अवैध करार दिया है.

शिवपाल यादव ने ट्वीट कर कहा, "रामगोपाल यादव का निष्कासन अभी भी वैध है ऐसे में उनके पास राष्ट्रीय अधिवेशन बुलाने का कोई अधिकार नहीं है. उनके निष्कासन पर मुलायम सिंह यादव के आवास पर हुई पार्टी की संसदीय बोर्ड की बैठक में मुहर लगी है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे