पुराने स्मार्टफोन का डेटा सेव करने के 5 तरीक़े

ऑनलाइन बैकअप, लैपटॉप

आपके स्मार्टफोन पर अब सबकी नज़र है. चोर उसे कभी छीनने की कोशिश करते हैं तो ऑनलाइन उचक्के उसमें छुपी आपके बारे में जानकारी हासिल करने के चक्कर में रहते हैं.

उनसे बचने का सबसे आसान तरीका है कि स्मार्टफोन पर जितना कम हो सके पर्सनल और फाइनांशियल जानकारी रखिए.

आज के समय में जब सभी बैंक, म्यूच्यूअल फंड, शेयर बाज़ार और बीमा कंपनिया स्मार्टफोन पर जानकारी देना चाहती हैं तो शायद ये करना मुश्किल है.

लेकिन अपने स्मार्टफोन पर जानकारी का अगर आप बैक अप रखते हैं तो ये बहुत आसान है.

अपने आप स्मार्टफोन पर रखे डेटा का अगर आप बैक अप समय समय पर लेते रहेंगे तो जानकारी चोरी होने का डर नहीं होगा.

टाइटेनियम बैक अप को कई सालों से इसे बैक अप का बादशाह माना जाता रहा है. इसमें कई ऐसी सुविधाएं हैं जो दूसरे बैक अप ऐप में नहीं मिलती हैं. लेकिन टाइटेनियम को लेकर कई परेशानियां भी हैं, जैसे देखने में बहुत पुराना दिखता है और इसके लिए रूट एक्सेस की जरूरत पड़ती है. ये फ्री नहीं है और इस्तेमाल के लिए करीब 400 रुपये खर्च करने पड़ेंगे.

चीता का ऐप सीएम बैक अप आपके ये कॉन्टैक्ट, एसएमएस, कॉल लॉग, कैलेंडर और फोटो को सुरक्षित रखता है. इस ऐप को अगर आप डाउनलोड करेंगे तो उसके साथ में पांच गीगाबाइट का क्लाउड स्टोरेज फ्री मिलेगा.

जी क्लाउड बैकअप खुद के क्लाउड स्टोरेज का इस्तेमाल करता है और आप एक गीगाबाइट स्टोरेज के साथ भी शुरुआत कर सकते हैं. बाद में इसे 10 जीबी तक भी किया जा सकता है. ये ऐप बिलकुल फ्री है लेकिन इसमें समय समय पर विज्ञापन दिखाई देंगे. बैकअप सिर्फ वाई-फाई कनेक्शन पर होगा इसलिए आपका मोबाइल डेटा इस्तेमाल नहीं होता है.

ईजी बैकअप एंड रिस्टोर की सबसे बड़ी खासियत है कि कुछ देर की कोशिश के बाद ये बहुत तेजी से रिस्टोर हो जाता है. इस ऐप में भी कॉन्टैक्ट, एसएमएस, एमएमएस, कॉल लॉग, कैलेंडर, डिक्शनरी और फोटो और बुकमार्क को सुरक्षित रखा जा सकता है.

हांलाकि ऐप को सेफ रखने के लिए रूटिंग की जरूरत पड़ती है. अगर आपके पास ड्राप बॉक्स, गूगल ड्राइव, वन ड्राइव जैसे स्टोरेज के विकल्प हैं तो इन सभी पर आप अपने बैकअप रख सकते हैं. अगर एसडी कार्ड पर स्टोर करके रखना है तो वो भी संभव है.

सुपर बैकअप भी दूसरों की तरह कॉल लॉग, एसएमएस, कॉन्टैक्ट वगैरह बैकअप कर देता है लेकिन फ्री वर्जन में विज्ञापन दिखाई देंगे और करीब 150 रुपये देकर ये ऐप आप शायद खरीदना न चाहें.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)