शहाबुद्दीन की रिहाई के विरोध में सड़क पर एनडीए

राजद नेता और पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के रिहाई के विरोध में बिहार के विपक्षी गठबंधन एनडीए ने आज पटना में महाधरना दिया.

यूं तो शनिवार को इस कार्यक्रम की घोषणा शहाबुद्दीन के रिहाई के विरोध में की गई था लेकिन बदले घटनाक्रम में इसमें उनकी फिर से गिरफ़्तारी की मांग पूरे ज़ोर-शोर से उठी.

इमेज स्रोत, Manish Shandilya

इमेज कैप्शन,

एनडीए का पटना में महाधरना

बीते दिनों पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड मामले में जेल से रिहाई के बाद शहाबुद्दीन के काफिले में एक अभियुक्त मोहम्मद कैफ़ के शामिल होने की खबरें आई थीं.

इसी खबर के आधार पर एनडीए नेताओं ने आज के धरने में शहाबुद्दीन की फिर से गिरफ़्तारी की मांग की.

धरने में शामिल भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहनवाज हुसैन ने कहा, ''अगर ये सरकार शहाबुद्दीन को मदद नहीं कर रही है तो अभी तुरंत राजदेव रंजन हत्याकांड में शहाबुद्दीन को गिरफ़्तार करे क्यूंकि जो शार्प शूटर है वो उनके बगल में खड़ा था.''

इमेज स्रोत, Manish Shandilya

इमेज कैप्शन,

शहाबुद्दीन के रिहाई के विरोध में एनडीए

इस बीच बुधवार सुबह मोहम्मद कैफ की एक और तस्वीर सामने आई, जिसमें वे लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव को गुलदस्ता देते नज़र आ रहे हैं.

इस तस्वीर के आधार पर बिहार विधानसभा में विरोधी दल के नेता प्रेम कुमार ने तेज प्रताप यादव को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने की मांग की.

महाधरने में बिहार एनडीए के सभी घटक दलों, भाजपा, हम (सेक्यूलर), लोजपा और रालोसपा के नेता मौजूद थे.

कार्यक्रम में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम (सेक्यूलर) के अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने कहा, ''नीतीश कुमार अपने नैतिकता को बचा कर रखना चाहते हैं तो तुरंत इस्तीफा दें.''

शहाबुद्दीन के मुद्दे पर एनडीए बृहस्पतिवार को सूबे के सभी जिला मुख्यालयों में महाधरना देगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)