उड़ी हमले के बाद क्या-क्या हुआ?

इमेज कॉपीरइट AFP

भारत प्रशासित कश्मीर के उड़ी सेक्टर में सैन्य छावनी पर रविवार तड़के हुए चरमपंथी हमले में 17 सैनिकों की मौत हुई है. सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में चार चरमपंथियों की भी मौत हुई है.

सुरक्षा बलों ने इलाके में तलाशी अभियान चलाया है.

पठानकोट हमले के बाद ये सबसे बड़ा चरमपंथी हमला है.

इमेज कॉपीरइट AP

हमले के तुरंत बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अपना रूस और अमरीका का दौरा रद्द कर दिया और अपने आवास पर आपात बैठक बुलाई.

इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, खुफिया एजेंसियों के प्रमुख, केंद्रीय गृह सचिव सहित सेना के शीर्ष अधिकारी, अर्धसैनिक बल और गृह मंत्रालय के अधिकारी शामिल हो रहे हैं.

राजनाथ सिंह ने उड़ी हमले के बाद सूबे की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और राज्यपाल एनएन वोहरा से भी बात की है.

इमेज कॉपीरइट AFP

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और आर्मी चीफ़ जनरल दलबीर सिंह सुहाग चरमपंथी हमले की नज़ाकत को देखते हुए कश्मीर रवाना हो रहे हैं.

हमले में गंभीर रूप से घायल सैनिकों को हेलीकॉप्टर की मदद से श्रीनगर अस्पताल ले जाया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)