उमा भारती के ख़िलाफ़ ग़ैर ज़मानती वारंट

  • 29 सितंबर 2016

भोपाल की ज़िला अदालत ने मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की मानहानि के मामले में केंद्रीय मंत्री उमा भारती के ख़िलाफ़ ग़ैर ज़मानती वारंट जारी किया है.

दिग्विजय सिंह की ओर से दायर मानहानि के मामले में भोपाल ज़िला अदालत कई बार उमा भारती को तलब कर चुकी थी.

उमा भारती के हाज़िर न होने के कारण अब ग़ैर ज़मानती वारंट जारी किया है.

दिग्विजय सिंह ने स्थानीय पत्रकारों से बात करते हुए कहा, "मैं सिर्फ़ ये चाहता हूँ कि उमा अदालत में मुझसे माफ़ी मांगे. फिर मैं मामला वापस ले लूंगा."

मध्य प्रदेश में साल 2003 के चुनाव प्रचार के दौरान उमा भारती ने दिग्विजय सिंह पर घोटाले के आरोप लगाए थे.

इमेज कॉपीरइट Vipul Gupta

उमा भारती ने कहा था कि मुख्यमंत्री रहते हुए दिग्विजय सिंह ने पंद्रह हज़ार करोड़ का घोटाला किया है.

इन्हीं आरोपों के बाद दिग्विजय सिंह ने उमा भारती पर मानहानि का मामला दर्ज करवाया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)