मलकानगिरि : मुठभेड़ में 18 माओवादी मारे गए

  • 24 अक्तूबर 2016

आंध्र प्रदेश की पुलिस ने ओडिशा से लगती सीमा के पास मुठभेड़ में 18 माओवादियों को मारने का दावा किया है.

विशाखापत्तनम के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राहुल देव शर्मा ने बीबीसी को बताया, "यह आंध्र प्रदेश पुलिस के विशेष दल 'ग्रेहाउंड' और ओडिशा पुलिस की संयुक्त कार्रवाई थी."

यह मुठभेड़ ओडिशा के मलकानगिरि ज़िले में स्थित कियासिर बेगानगी के जंगलों में हुई.

पुलिस का कहना है कि मुठभेड़ के बाद घटनास्थल से भारी मात्रा में हथियार और गोलाबारूद बरामद किया गया है. इनमें चार एक-47 राइफल, दो एसएलआर और दो इंसास राइफल शामिल हैं.

राहुल देव शर्मा ने बीबीसी से कहा, " मुठभेड़ सुबह 6 बजे से शुरू हुई. सुरक्षा बलों का नेतृत्व एक पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी कर रहे थे. हमें पता चला है कि मारे गए माओवादी छापामारों की लाशें अभी भी वहीं पड़ी हुईं हैं, जहां मुठभेड़ हुई थी. इन लाशों को बरामद करने का काम किया जा रहा है."

पुलिस को आशंका है कि मुठभेड़ में कई और माओवादी छापामारों को गोलियां लगी हैं, जो वहां से भागने में कामयाब रहे.

सुरक्षा बलों ने पूरे जंगल को घेर लिया है. वहां बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. अतिरिक्त सुरक्षा बलों को इलाक़े में भेजा जा रहा है.

विशाखापत्तनम पुलिस के वरिष्ठ अधीक्षक ने कहा कि मुठभेड़ में मारे गए माओवादी छापामारों की संख्या बढ़ भी सकती है. हालांकि मुठभेड़ में सुरक्षा बलों के कुछ जवानों के घायल होने की बात भी कही जा रही है, लेकिन इसकी अभी पुष्टि नहीं हो पाई है.

ओडिशा का मलकानगिरी इलाक़ा छत्तीसगढ़ और आंध्र प्रदेश से लगा हुआ है. इसे माओवादियों का गढ़ माना जाता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए