'भारतीय सैनिक के शव को विकृत किया गया'

इमेज कॉपीरइट AP

'द इंडियन एक्सप्रेस' में सेना के हवाले से प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया है कि नियंत्रण रेखा के पास संदिग्ध चरमपंथियों ने एक भारतीय सैनिक की हत्या कर उसके शव को विकृत किया है.

सेना की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि एक घृणित कृत्य करते हुए चरमपंथियों ने भारतीय सैनिक के शव को विकृत किया और पाकिस्तान सेना की ओर से की गई कवर फ़ायरिंग का फ़ायदा उठाकर भाग गए.

अख़बार में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके पिता मुलायम सिंह यादव के बीच कथित मतभेदों की ख़बर भी है.

अख़बार के मुताबिक़ अखिलेश के नए प्रचार वीडियो से मुलायम सिंह यादव ग़ायब हैं.

'इंडियन एक्सप्रेस' की रिपोर्ट के मुताबिक़ इस वीडियो में अखिलेश की पत्नी और बच्चे तो हैं लेकिन उनके पिता मुलायम सिंह यादव और चाचा शिवपाल यादव नहीं हैं.

हाल के दिनों में समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव के परिवार में उठा 'विवाद' सुर्ख़ियों में रहा है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption भारत और पाकिस्तान सीमा और नियंत्रण रेखा पर तनाव बढ़ा है.

भारत और पाकिस्तान की सीमा और नियंत्रण रेखा पर दोनों ओर से हुई गोलीबारी को अंग्रेज़ी अख़ाबर 'द पॉयनियर' ने युद्ध जैसी मुठभेड़ कहा है.

रिपोर्ट में बीएसएफ़ के हवाले से कहा गया है कि भारतीय सुरक्षा बलों की फ़ायरिंग में इस सप्ताह सीमा पर 15 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

अंग्रेज़ी अख़बार 'द हिंदू' ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि दिल्ली में दीवाली पर अगर कम पटाखे भी छोड़े जाते हैं तो भी प्रदूषण का स्तर ज़्यादा रहेगा.

रिपोर्ट में अख़बार ने बताया है कि यदि दिल्लीवाले बीते साल के मुक़ाबले इस बार दीवाली पर आधी आतिशबाज़ी करते हैं तब भी दिल्ली की हवा में हानिकारक तत्वों की मात्रा तय सीमा से चार गुना ज़्यादा रहेगी.

सूरत में एक हीरा कारोबारी ने अपने कर्मचारियों को दीवाली बोनस में कारें और मकान दिए हैं. ये ख़बर आज कई अंग्रेज़ी अख़बारों में है.

'द स्टेट्समैन' की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ दिल्ली पुलिस की गिरफ़्त में आए एक कथित पाकिस्तानी जासूस और वीज़ा एजेंट ने बीएसएफ़ के रिटायर्ड अधिकारियों को फांसने के लिए हनीट्रैप का इस्तेमाल किया.

रिपोर्ट के मुताबिक वीज़ा मांगने वाली महिलाओं का इस्तेमाल अधिकारियों और अन्य लोगों को लुभाने और उनसे जानकारियां निकालने के लिए किया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)