टाटा मुख्यालय के सामने फोटोग्राफरों की पिटाई

  • अश्विन अघोर
  • मुंबई से बीबीसी डॉट कॉम के लिए
इमेज कैप्शन,

साइरस के सुरक्षा गार्डों ने की फोटोग्राफरों के साथ हाथापाई

शुक्रवार दोपहर टाटा उद्योग समूह की आम सभा की कवरेज के लिए गए फोटोग्राफरों की टाटा समूह के सुरक्षा गार्डों ने पिटाई कर दी.

टाटा समूह के पूर्व अध्यक्ष सायरस मिस्त्री जब समूह के मुख्यालय बॉम्बे हाउस पहुंचे, तब वहाँ मौजूद फोटोग्राफरों ने उनकी तस्वीरें लेने की कोशिश की.

जब फोटोग्राफर मिस्त्री के क़रीब पहुंचे तो उनके सुरक्षा गार्डों ने उनसे हाथापाई शुरू कर दी.

जल्द ही ये हाथापाई ज़बरदस्त मारपीट में बदल गयी और सुरक्षा गार्डों ने बेरहमी से फोटोग्राफरों की पिटाई कर दी.

इस मारपीट में मिड डे और हिंदुस्तान टाइम्स अख़बार के फोटोग्राफरों के कैमरे टूट गए और उन्हें भी काफी चोटें आयी हैं.

दोनों फोटोग्राफरों को इलाज के लिए सेंट जॉर्ज अस्पताल में भर्ती कराया गया.

मामले की शिकायत रमाबाई आंबेडकर पुलिस थाने में दर्ज की गयी है.

इस घटना के बाद टाटा समूह के प्रवक्ता देबाशीष राय ने बयान जारी कर घटना के लिए माफ़ी माँगी है.

अपने वक्तव्य में राय ने कहा, "हम इस घटना से काफ़ी आहत हैं और इसके लिए माफ़ी चाहते है.

इस घटना में घायल हुए पत्रकारों से और उनके परिजनों से हम माफी मांगते है. हम आश्वस्त करते हैं कि भविष्य में ऐसी घटना नहीं घटेगी."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)