'अम्मा' के निधन के बाद के 10 घटनाक्रम

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
जयललिता का सफ़र

तमिलनाडु में बेहद लोकप्रिय मुख्यमंत्री जे जयललिता का निधन होने के बाद राज्य में शोक की लहर दौड़ गई है.

चेन्नई में मौजूद बीबीसी संवाददाता ज़ुबैर अहमद का कहना है कि शहर में भीड़ बढ़ती जा रही है जिसमें महिलाओं की तादाद काफी अधिक है.

लोग मरीना बीच के आसपास पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं जहां पुलिस ने सुरक्षा-व्यवस्था के ज़बर्दस्त इंतज़ाम किए हैं.

एआईएडीएमके प्रमुख जे जयललिता के निधन के बाद तमिलनाडु के ताज़ा घटनाक्रम की 10 बड़ी बातें-

जयललिता तमिलनाडु की अम्मा क्यों थीं?

चाय बेचने वाला तमिलनाडु का मुख्यमंत्री

'महिलाओं के लिए तो वो भगवान थीं'

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जयललिता को श्रद्धांजलि देने के लिए चेन्नई पहुंचे.
  • जयललिता के सम्मान में केंद्र सरकार ने एक दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है.
  • तमिलनाडु में 7 दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा. सभी शैक्षणिक संस्थान भी 3 दिन तक बंद रहेंगे.
  • जयललिता का अंतिम संस्कार मंगलवार शाम चेन्नई में ही किया जाएगा.
  • जयललिता के सबसे क़रीबी माने जाने वाले ओ पनीरसेल्वम तमिलनाडु के नए मुख्यमंत्री बने हैं.
  • चेन्नई में एआईएडीएमके के मुख्यालय पर सोमवार देर रात पार्टी विधायकों की बैठक में उन्हें पार्टी विधायक दल का नेता चुना.
  • अपोलो अस्पताल से जयललिता के पार्थिव शरीर को पोयस गार्डन में उनके आधिकारिक आवास पर ले जाया गया.
  • सड़क के दोनों किनारे लोग भावुक होकर 'अम्मा अमर रहें' के नारे लगा रहे थे.
  • उनके पार्थिव शरीर को राजाजी हॉल में मंगलवार सुबह से शाम तक रखा जाएगा.
  • पोयस गार्डन इलाके में भी सुरक्षा के भारी इंतज़ाम, चेन्नई में भारी पुलिस बल तैनात है.

सोशल मीडिया पर लगा शोक संदेशों का तांता

Image caption जब जयललिता के शव को अपोलो अस्पताल से ले जाया गया तो लोग 'अम्मा अमर रहें' के नारे लगा रहे थे.
इमेज कॉपीरइट Imran Qureshi

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे