प्रेस रिव्यू- 'नहीं मिलेगा टीम इंडिया को ढाई लाख का सूट'

  • 8 दिसंबर 2016
इमेज कॉपीरइट AP

इंडियन एक्सप्रेस की फीचर स्टोरी है भारतीय क्रिकेट टीम के ढाई लाख के सूट पर, जो अब टीम के सदस्यों को नहीं मिलेगा.

बीसीसीआई के सीईओ ने क्रिकेट टीम के लिए इटालियन सूट बनवाने का प्रस्ताव रखा था लेकिन बोर्ड ने इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया है.

इन सूटों की कीमत ढाई लाख रूपए होती लेकिन बोर्ड ने इस प्रस्ताव को खारिज़ कर दिया है.

दिल्ली से छपने वाले अखबारों ने नोटबंदी का एक महीना और आरबीआई की ब्याज़ दरें न घटाने और विकास दर का पूर्वानुमान कम किए जाने को प्रमुखता से छापा है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

इससे जुड़ी आज की ख़ास सुर्खियां इस प्रकार हैं-

हिंदुस्तान टाइम्स- RBI holds interest rates, cuts growth forecast to 7.1

टाइम्स ऑफ इंडिया- RBI cuts growth estimate to 7.1 from 7.6, holds rates

इंडियन एक्सप्रेस- Demonetisation still unfolding, says RBI, lowers growth estimate, leaves key rate unchanged

नवभारत टाइम्स- RBI ने किया निराश, नहीं घटाईं ब्याज़ दरें

अमर उजाला- नहीं घटी ईएमआई, बाज़ार निराश

नई दुनिया- कर्ज़ नहीं होगा सस्ता, गेहूं, शकर, चना महंगे होने से बढ़ेगी मंहगाई

दैनिक भास्कर- सरकार कहती रही नोटबंदी से खूब पैसा आया, कर्ज सस्ते होंगे/ आरबीआई ने कहा- अनिश्चित है सब अभी, नहीं घटा सकते ब्याज़ दरें

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खास ख़बर चुनाव आयोग से जुड़ी है. चुनाव आयोग ने कहा है कि भारत में 1900 राजनीतिक पार्टियां हैं जिसमें से 400 पार्टियों ने कभी भी चुनाव लड़ा ही नहीं है.

अख़बार ने मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम ज़ैदी के हवाले से कहा है कि इसमें से कई पार्टियां काले धन को सफेद करने का तरीका हो सकती हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स ने सुंदरबन के एटीएम में काम करने वाले एक आपरेटर से जुडी कहानी छापी है.

रेमेश मिस्त्री पूरे इलाक़े में एसबीआई के कस्टमर सर्विस प्वाइंट के आपरेटर हैं यानी कैश उन्हीं से मिल सकता है.

अब खबर है कि उनके घर के बाहर ही कतारें लग रही हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए