आंध्र की तरफ बढ़ा वरदा, तमिलनाडु में दो की मौत

टूटा हुआ सिग्नल
इमेज कैप्शन,

तेज़ हवाओं के असर से तमिलनाडु के तटीय हिस्सों में कई जगह पेड़ और खंबे उखड़ गए.

चक्रवाती तूफ़ान वरदा तमिलनाडु के तटवर्ती इलाक़े से टकराने के बाद आंध्र प्रदेश और पूर्वी कर्नाटक की तरफ बढ़ रहा है. तमिलनाडु प्रशासन के मुताबिक तूफ़ान के असर से दो लोगों की मौत हो गई है.

चेन्नई और आसपास के इलाके में भारी बारिश हो रही है. मौसम विभाग के मुताबिक अगले 12 घंटे तक नेल्लोर से लेकर चेन्नई तक भारी बारिश जारी रह सकती है.

तूफान सोमवार दोपहर चेन्नई से करीब 25 किलोमीटर दूर तट से टकराया.

पत्रकार इमरान क़ुरैशी ने चेन्नई के एरिया साइक्लोन वार्निंग सेंटर के निदेशक डॉ एस बालाचंद्रन के हवाले से जानकारी दी कि जिस वक़्त चक्रवात तट से टकराया, उस समय हवाओं की रफ़्तार 110 से 120 किलोमीटर प्रति घंटा थी लेकिन बाद में हवा की रफ़्तार कम हो गई. फिलहाल 70 से 80 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ़्तार से हवाएं चल रही हैं.

इमेज कैप्शन,

तमिलनाडु के तट से टकराने के बाद वरदा चक्रवात आंध्र प्रदेश की तरफ बढ़ गया है.

मौसम विभाग हैदराबाद के निदेशक डा. वाईके रेड्डी ने बताया, "चक्रवात वरदा का दायरा 90 किलोमीटर तक फ़ैला है. ऐसे में चक्रवात के तट तक पहुंचने की पूरी प्रक्रिया में वक़्त लगेगा."

रेड्डी के मुताबिक, "टकराने के बाद चक्रवात कमजोर पड़ेगा. हवाओं की रफ़्तार धीमी हुई है. लेकिन पूरी प्रक्रिया 12 घंटे में पूरी होगी और तब तक भारी बारिश होगी."

चक्रवात की वजह से रेल और हवाई सेवा बाधित हुई है. चेन्नई एयरपोर्ट को रात नौ बजे तक बंद कर दिया गया है.

पत्रकार इमरान कुरैशी के मुताबिक बारिश की वजह से चेन्नई के कई इलाकों में पानी भर गया है. शहर के ज्यादातर हिस्सों में बिजली आपूर्ति ठप है.

मौसम विभाग का अनुमान है कि वरदा चक्रवात मंगलवार सुबह तक आंध्र के रायलसीमा क्षेत्र और पूर्वी कर्नाटक तक पहुंचेगा. बेंगलुरू में बारिश शुरू हो गई है.

तमिलनाडु के प्रभावित इलाक़े में राष्ट्रीय आपदा राहत बल यानी एनडीआरएफ़ की कई टीमें तैनात हैं और तूफान से निपटने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं.

इमेज कैप्शन,

चेन्नई में कई पेड़ गिर गए हैं

आंध्र प्रदेश के तटवर्ती इलाके से तकरीबन 9,400 लोगों को राहत शिविरों तक पहुंचाया गया है. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी एनडीएमए ने हेल्पलाइन नंबर्स जारी किए हैं.

इमेज कैप्शन,

एनडीएमए ने वरदा तूफान के मद्देनजर हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं.

वरदा का असर लोकल ट्रेनों से लेकर एयर ट्रैफिक, यातायात के सभी साधनों पर हो रहा है.

कुछ लोकल ट्रेनें रद्द की गई हैं. तमिलनाडु के उत्तर में तटीय जिलों में भी भारी बारिश हो रही है और तेज हवाएं चल रही हैं.

वरदा के मद्देनजर तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में हाई अलर्ट जारी है. राष्ट्रीय आपदा राहत बल की 15 टीमें हालात से निपटने के लिए तैनात की गई हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)