जॉर्डन में बंदूकधारियों का हमला, 14 की मौत

कारक में हमला
इमेज कैप्शन,

कारक के क़िले के बाहर पुलिस और एंबुलेंस.

जॉर्डन के ऐतिहासिक कारक शहर में बंदूकधारियों ने कई जगह गोलीबारी की है जिसमें दस लोगों की मौत हो गई है. सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में 4 बंदूकधारियों की भी मौत हुई है.

अधिकारियों का कहना है कि मरने वालों में एक कनाडाई सैलानी और सात पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं. इन हमलों में 27 लोगों के घायल होने की भी ख़बर है.

सुरक्षाबलों ने कारक शहर की घेराबंदी हटा दी है. सुरक्षाबलों का कहना है कि मारे गए बंदूकधारियों के पास विस्फोटक, हथियार और आत्मघाती बेल्ट भी थी.

अज्ञात बंदूकधारियों ने कारक के प्राचीन क़िले 'क्रूसेडर्स कासल' पर हमला किया था जहां कुछ पर्यटक फंस गए थे.

इससे पहले बयान में कहा गया था कि क़िले में फंसे पर्यटकों को निकालने के लिए पुलिस और सुरक्षाकर्मियों ने क़िले को घेर लिया है.

इमेज कैप्शन,

जॉर्डन का प्राचीन क़िला 'क्रूसेडर्स कासल'

स्थानीय मीडिया के मुताबिक़ क़िले से पर्यटकों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है.

अभी तक ये स्पष्ट नहीं है कि इन हमलों के पीछे किसका हाथ है.

इससे पहले जॉर्डन के अधिकारियों ने जानकारी दी थी कि कारक में एक घर के पास पुलिस और हथियारबंद लोगों के बीच गोलीबारी से ये हमला शुरू हुआ था. बताया गया कि बंदूकधारी गाड़ी से शहर छोड़कर भाग गए.

जॉर्डन के सार्वजनिक सुरक्षा निदेशालय के बयान के मुताबिक़,''पुलिस और सुरक्षा बलों ने क़िले और आस-पास के इलाके को घेर लिया और बंदूकधारियों को पकड़ने का अभियान शुरू कर दिया है.''

सोशल मीडिया पर आ रही तस्वीरों और फ़ुटेज में देखा जा सकता है कि क़िले में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए हथियारबंद पुलिस आगे बढ़ रही है लेकिन गोलियां चलने के कारण पीछे हटना पड़ा.

ये साफ़ नहीं है कि हमलों में हुई सभी मौतें क़िले के अंदर ही हुई हैं.

अमरीका का मुख्य सहयोगी जॉर्डन, सीरिया और इराक़ में चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट के खिलाफ़ लड़ाई में अमरीका के नेतृत्व वाले गठबंधन का हिस्सा भी है.

अमरीका ने सीरियाई विद्रोहियों के एक गुट को जॉर्डन में प्रशिक्षण भी दिया है.

आईएस ने जॉर्डन की सीमा पर हमले की धमकी भी दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)