क्रिसमस पर आपने आज सांता को देखा!

भारत में क्रिसमस की क्या तैयारियां हैं, देखिए तस्वीरों में.

इमेज कैप्शन,

दुनिया भर के ईसाई जीसस क्राइस्ट के जन्मदिन के जश्न को क्रिसमस के तौर पर मनाते हैं. आबादी के लिहाज में भारत में ईसाई धर्म के मानने वालों की संख्या ढ़ाई करोड़ से ज्यादा है. ये तस्वीर इलाहाबाद शहर के सेंट पीटर्स चर्च के बाहर की है. क्रिसमस की पूर्व संध्या पर क्रिसमस का जश्न मनाते लोग.

इमेज कैप्शन,

सांता क्लॉज की ड्रेस में एक स्कूल जाने वाला लड़का. अमृतसर शहर की इस तस्वीर में सांता क्लॉज को उसके स्कूल के दोस्तों ने घेर रखा है. सवा अरब की आबादी वाले भारत में ईसाई भले ही देश की कुल जनसंख्या का महज दो फीसदी के करीब हों लेकिन क्रिसमस की लोकप्रियता साल दर साल बढ़ती हुई दिख रही है.

इमेज कैप्शन,

इन दिनों हर तरफ इको-फ्रेंडली चीज़ों की बात की जा रही है तो फिर क्रिसमस कैसे इससे अछूता रहता. बैंगलुरु शहर के मार थोमा चर्च के बाहर एक 30 फीट ऊंचा इको-फ्रेंडली क्रिसमस ट्री. इसे कार्डबोर्ड और कार्टन के बक्सों के जरिये बनाया गया है.

इमेज कैप्शन,

चेन्नई में एक शॉप पर सांता क्लॉज़ के साथ सेल्फ़ी लेती एक लड़की. क्रिसमस और रविवार का एक साथ होने का संयोग कम ही देखने को मिलता है. आखिरी बार 2011 में यह रविवार को आया था और अगली बार 2022 में यह रविवार को पड़ेगा.

इमेज कैप्शन,

24 दिसंबर को कोलकाता में एक चर्च के बाहर एक मां अपने बच्चे के साथ. भारत में केवल ईसाई धर्म को मनाने वाले लोग ही क्रिसमस नहीं मनाते हैं बल्कि इस उत्सव में दूसरे धर्मों के लोग भी शरीक होते हैं.

इमेज कैप्शन,

क्रिसमस नोटबंदी से कैसे अछूता रहता. पश्चिम बंगाल के सिलिगुड़ी शहर की एक बेकरी शॉप नोटबंदी की थीम पर डिजाइन किया हुआ केक देखा जा सकता है. एक केक की थीम पाक पर 'सर्जिकल स्ट्राइक' के भारतीय दावे को भी दिखलाती है.

इमेज कैप्शन,

रेत पर कलाकृतियां बनाने वाले सुदर्शन पटनायक ने क्रिसमस की पूर्व संध्या पर ये कलाकृति बनाई है. इसे पुरी शहर के गोल्डन बीच पर इसे देखा जा सकता है.