पर्रिकर का घमंड सरकार के पतन का कारण बनेगा: कांग्रेस

  • 13 मार्च 2017
इमेज कॉपीरइट PTI

गोवा के राज्यपाल के भारतीय जनता पार्टी को सरकार बनाने के दिए न्यौते के ख़िलाफ़ मंगलवार को कांग्रेस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई है.

गोवा से कांग्रेस पार्टी के सांसद शांताराम नाइक ने कहा, "भारतीय जनता पार्टी ने हमारी पीठ में छुरा घोंप है और भारतीय संविधान का खून किया है,"

उनकी पार्टी राज्य में विधान सभा चुनाव में नंबर एक पार्टी होने के बावजूद सरकार बनाने में नाकाम रही है.

नंबर दो पर आने वाली बीजेपी के मनोहर पर्रिकर मंगलवार शाम मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. वो पहले गोवा के मुख्यमंत्री रह चुके हैं.

गोवा की 40 विधानसभा सीटों के लिए हुए चुनाव में कांग्रेस को 18 और भाजपा को 13 सीटें हासिल हुई थीं. बाक़ी सीटें छोटी पार्टियों और आज़ाद उम्मीदवारों की झोली में गिरीं.

सरकार बनाने के लिए 21 सीटों की ज़रुरत होती है

इमेज कॉपीरइट GoA BJP

पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने कहा है कि जो पार्टी दूसरे नंबर पर है उसे सरकार बनाने का कोई हक़ नहीं है.

चिदंबरम ने ट्वीट किया, "एक ऐसी पार्टी जो दूसरे नंबर पर आई है उसे सरकार बनाने का कोई अधिकार नहीं है. बीजेपी गोवा और मणिपुर में चुनाव (बहुमत) चुरा रही है."

लेकिन भाजपा का कहना है कि कांग्रेस ने सरकार बनाने का दावा करने में देरी कर दी.

बीजेपी सांसद नरेंद्र केशव सवयकर कहते हैं, "यहाँ की जो दो स्थानीय पार्टियां हैं यानी महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी और फॉरवर्ड पार्टी दोनों ने स्वयं हमें समर्थन दे दिया. साथ में आज़ाद उम्मीदवारों ने हमें सपोर्ट कर दिया. इसलिए हम लोगों ने गवर्नर के पास जाकर सरकार बनाने का दावा कर दिया."

इमेज कॉपीरइट TWITTER

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ सांसद शांताराम नाइक सरकार बनाने में पार्टी से देरी हुई को माना लेकिन उनका कहना था, "हमने विधायकों से ख़ुफिया बैलट से नेता चुनने की परिक्रिया अपनाई जिससे देरी हो गई."

तो क्या अब कांग्रेस के पास विरोध प्रकट करने के इलावा कोई और रास्ता है?

शांताराम नाइक कहते हैं कि इसकी ज़रुरत नहीं. कुछ समय बाद ये सरकार ख़ुद ही गिर जायेगी.

पर वो क्यों और कैसे? वो कहते हैं, "हमें कुछ करने की ज़रुरत नहीं. मनोहर पर्रिकर का घमंड उनकी सरकार के पतन का कारण बनेगा."

वो आगे बोले, "पता नहीं आपने उन्हें दिल्ली में देखा है या नहीं, हम ने उन्हें यहाँ चार-पांच साल देखा है. उन्हें हम यहाँ छोटा मोदी कहते हैं."

इमेज कॉपीरइट PIB

ये पूछने पर कि वो पर्रिकर के फिर से मुख्यमंत्री बनने को किस तरह देखते हैं - आगे जाना या...?

बीजेपी सांसद श्रीपद नाइक ज़ोर से हँसते हुए कहते हैं इसका जवाब पर्रिकर से मांगिये.

कांग्रेस के शांताराम का कहना है कि रक्षामंत्री के तौर पर पर्रिकर का रिकॉर्ड बहुत ख़राब रहा.

वो कहते हैं, "उन्होंने गोवा आने का पहले से ही तय किया हुआ था क्योंकि वो जानते थे कि रक्षा मंत्रालय उनकी जगह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल चलाते हैं."

बीजेपी सांसदों ने ये स्वीकार किया कि विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी का प्रदर्शन अच्छा नहीं था.

श्रीपद नाइक के अनुसार पार्टी के हारे हुए विधायकों को जनता ने रद्द कर दिया क्योंकि उन्होंने जनता के लिए काम नहीं किया.

वो इससे "सबक़" लेने की बात कहते हैं लेकिन इसके बावजयद उनके विचार में उनकी पार्टी के पास 21 विधायकों का मैजिकल नंबर है और इसलिए वो सरकार बना रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे