कोविंद के समर्थन से पीछे हटना मुमकिन नहींः जेडीयू

  • 22 जून 2017
लालू-नीतीश

जनता दल यूनाइटेड ने लालू प्रसाद यादव के उस अपील को खारिज कर दिया है जिसमें उन्होंने नीतीश कुमार से राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष की साझा उम्मीदवार मीरा कुमार का समर्थन करने के अपील की थी.

जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कमार अभी लालू की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल और कांग्रेस के समर्थन से बिहार के मुख्यमंत्री हैं.

पार्टी ने बुधवार को राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन देने की घोषणा की थी.

एनडीए के 'राम' के सामने यूपीए की मीरा

मीरा कुमार आख़िर क्यों हैं यूपीए की पसंद

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'अपील पर विचार का सवाल ही नहीं'

मीरा कुमार की उम्मीदवारी तय होने के बाद आरजेडी अध्यक्ष लालू ने कहा, ''नीतीश जी हमको फोन किए थे कि यह (रामनाथ कोविंद का समर्थन) मेरी निजी राय है. हम बोले कि इ सब ऐतिहासिक गलती मत कीजिए आप. फिर भी हम नीतीश कुमार से अपनी राय पर विचार करने की अपील करते हैं.''

इस पर प्रतिक्रिया में जेडीयू के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव और प्रवक्ता केसी त्यागी ने बीबीसी से खास बात-त में कहा, ''हमने ये फैसला बहुत सोच-समझ कर किया है. हमारी पार्टी की सर्वोच्च समिति ने तय किया है इसलिए इसे बदलने का, इस पर फिर से विचार करने का कोई सवाल ही नहीं है.''

केसी त्यागी के मुताबिक नीतीश कुमार ने सोनिया गांधी और लालू यादव को पहले ही बता दिया था कि अभी के हालात में उनके लिए रामनाथ कोविंद का विरोध करना संभव नहीं होगा.

क्या मीरा कुमार की उम्मीदवारी जदयू के लिए एक चुनौती है? इसके जवाब में केसी त्यागी ने कहा, ''हम इसे चुनौती नहीं मानते. उनकी उम्मीदवारी अच्छी है. हमने उनकी उम्मीदवारी को कम तरजीह देकर नहीं आंका है. लेकिन हम रामनाथ कोविंद के समर्थन की घोषणा कर चुके हैं, इससे पीछे हटना मुमकिन नहीं.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए