वो सात कश्मीरी जिन्हें एनआईए ने पकड़ा

  • रियाज़ मसरूर
  • बीबीसी संवाददाता, श्रीनगर
एनआईए

इमेज स्रोत, www.nia.gov.in

श्रीनगर, जम्मू, दिल्ली और हरियाणा में राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी एनआईए ने पिछले महीने कई जगह छापे मारे थे. इस छापामारी का संबंध चरमपंथियों को विदेश से मिलने वाली आर्थिक मदद की पड़ताल से बताया गया था.

मंगलवार को भारत प्रशासित कश्मीर में एनआईए ने इसी सिलसिले में सात लोगों को गिरफ़्तार किया था.

गिरफ़्तार किए गए लोगों को दस दिन के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी या एनआईए की हिरासत में भेज दिया गया है.

उन पर चरमपंथ की गतिविधियों के लिए पाकिस्तान से अवैध रूप से धन प्राप्त करने का आरोप है.

आइए हम आपको बताते हैं उन 7 कश्मीरियों के बारे में, जिन्हें एनआईए ने गिरफ्तार किया है.

नईम अहमद ख़ान

नईम जम्मू कश्मीर नेशनल फ्रंट के अध्यक्ष हैं. उनकी पार्टी हुर्रियत गुट का हिस्सा थी. लेकिन एक भारतीय टीवी चैनल पर स्टिंग ऑपरेशन के बाद उनकी सदस्यता रद्द कर दी गई.

फारूक़ अहमद डार

फारूक़ अहमद डार उर्फ़ बिट्टा कराटे एक कट्टर चरमपंथी कमांडर और जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (आर) के अध्यक्ष हैं. कई कश्मीरी हिंदुओं की हत्या के आरोप में 16 साल जेल में गुज़ार चुके हैं.

अल्ताफ़ अहमद शाह

अल्ताफ़ अहमद शाह उर्फ़ अल्ताफ़ फंटूश हुर्रियत के सदस्य होने के साथ-साथ अली शाह गिलानी के दामाद भी हैं. अल्ताफ़ ने गिलानी के साथ लंबा समय बिताया है.

इमेज स्रोत, EPA

इमेज कैप्शन,

भारत प्रशासित कश्मीर की एक फाइल फोटो

अयाज़ अकबर

अयाज़ अकबर हुर्रियत (गिलानी धड़े) के प्रवक्ता हैं. सड़कों पर विरोध प्रदर्शन का आयोजन कराने की वजह से उन्हें कई बार हिरासत में लिया गया और नज़रबंद भी किया गया है.

आफ़ताब हिलाली शाह

आफ़ताब हिलाली शाह उर्फ़ शाहिद उल इस्लाम मीरवाइज़ के नेतृत्व वाले हुर्रियत गुट के प्रवक्ता हैं. आफ़ताब एक पूर्व चरमपंथी हैं और मीरवाइज़ के बेहद करीबी सहयोगी रहे हैं.

पीर सैफुल्लाह

पीर सैफ़ुल्लाह, हुर्रियत के अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी के निजी सचिव हैं. वे गिलानी के करीबी सहयोगी रहे हैं.

राजा मेहराजुद्दीन कलवल

राजा मेहराजुद्दीन कलवल गिलानी के नेतृत्व वाली तहरीक-ए-हुर्रियत के श्रीनगर ज़िला प्रमुख हैं.

इमेज स्रोत, EPA

इमेज कैप्शन,

भारत प्रशासित कश्मीर की एक फाइल फोटो

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)