बिहारः बाढ़ से बीते 48 घंटों में 56 लोगों की मौत

  • 15 अगस्त 2017
बिहार बाढ़ इमेज कॉपीरइट Manish Shandilya

बिहार के नौ ज़िलों में बाढ़ आने से बीते 48 घंटों में 56 लोगों की मौत हुई है. बिहार के 13 ज़िले बाढ़ से प्रभावित हैं.

बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा जारी फ़्लड रिपोर्ट के मुताबिक अररिया ज़िले में सबसे ज़्यादा मौतें हुई हैं.

'नदी तुम शांत हो जाओ, तुम्हें सोने का हार देंगे'

गुजरात डूबा सैलाब में, नेता कर रहे सियासत!

यहां बीस लोगों की मौत बाढ़ की चपेट में आने से हुई है.

इमेज कॉपीरइट Ritesh Verma

जबकि पश्चिमी चंपारण में बाढ़ से नौ और किशनगंज ज़िले में आठ लागों की मौत हुई है.

आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक अभी बिहार की करीब सत्तर लाख लोगों की आबादी बाढ़ की चपेट में है. 3734 गांव बाढ़ से घिरे हुए हैं.

राज्य सरकार का दावा है कि वह बाढ़ में घिरे लोगों को सुरक्षित निकालने का काम युद्ध स्तर पर कर रही है.

इमेज कॉपीरइट Manish Shandilya
Image caption बिहार के सुपौल जिले में आई बाढ़ की हालत

अभी तक करीब ढाई लाख प्रभावित लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है. इनमें से बीते 24 घंटों में करीब 66 हज़ार लोगों को सुरक्षित निकाला गया है.

एनडीआरएफ़ की 22 और एसडीआरएफ़ की 15 टीमें 182 बोट्स के सहारे बचाव के काम में लगी हैं.

राज्य सरकार बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए अभी 343 राहत शिविर चला रही है जिसमें करीब 93 हज़ार लोगों ने शरण ली है.

इमेज कॉपीरइट Ritesh Verma
Image caption पूर्वी चंपारण जिले में आई बाढ़ की हालत

भारतीय सेना की तीन अतिरिक्त टुकड़ियां कल रात बिहार पहुंच चुकी हैं. इन्हें सीतामढ़ी, मधुबनी, पश्चिम चम्पारण और पूर्वी चम्पारण ज़िले में बाढ़ राहत एवं बचाव कार्य में लगाया गया है.

इसके साथ ही वायुसेना के दो हेलिकॉप्टरों से पूर्णियाँ हवाई अड्डे से प्रभावित क्षेत्र में खाद्य सामग्री गिराई जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे