वो महिलाएं जो संभाल रही हैं देश का रक्षा मंत्रालय

  • 3 सितंबर 2017
मंत्रिमंडल विस्तार इमेज कॉपीरइट Twitter

रविवार को मोदी सरकार में तीसरी बार मंत्रिमंडल का विस्तार किया गया.

इस मंत्रिमंडल विस्तार में कई चौंकाने वाले नाम सामने आए हैं, जिनमें से एक है निर्मला सीतारमण. उन्हें रक्षा मंत्री का पद दिया गया है.

मनोहर पर्रिकर के गोवा का मुख्यमंत्री बनने के बाद से वित्त मंत्री अरुण जेटली रक्षा मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार संभाल रहे थे.

किस मंत्री को कौन सा विभाग मिला

नौकरशाहों को मंत्रीपद, क्या मोदी के नेता योग्य नहीं?

मंत्रिमंडल विस्तार बीजेपी का, एनडीए का नहीं: शिवसेना

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इंदिरा के बाद निर्मला...

निर्मला सीतारमण इंदिरा गांधी के बाद देश की दूसरी महिला रक्षा मंत्री बनी हैं. निर्मला अभी तक वाणिज्य राज्य मंत्री का पदभार संभाल रही थीं.

इंदिरा गांधी ने प्रधानमंत्री पद पर रहते हुए 1975 में थोड़े समय के लिए और 1980 में दो साल के लिए रक्षा विभाग अपने पास रखा था.

हालांकि दुनिया भर में डिफेंस जैसे विभाग को अमूमन पुरुषों के वर्चस्व वाली जिम्मेदारी के तौर पर देखा जाता है लेकिन दुनिया के कई बड़े देशों में रक्षा मंत्रालय की ज़िम्मेदारी महिला के कंधे पर है.

इसमें ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, फ्रांस, इटली जैसे कई बड़े देश शामिल हैं.

दुनिया भर में महिला रक्षा मंत्रियों पर एक नज़र

इमेज कॉपीरइट Getty Images

उर्सुला वॉन डेर लेयेन, जर्मनी

उर्सुला वॉन डेर लेयेन साल 2013 से जर्मनी की पहली महिला रक्षा मंत्री के तौर पर नियुक्त हुईं.

सात बच्चों की मां उर्सुला पेशे से चिकित्सक रही हैं. वे 1999 से राजनीति में सक्रिय हैं.

रक्षा मंत्री बनने से पहले वे श्रम मंत्री और महिला विकास मंत्री भी रह चुकी हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मेरिस पेन, ऑस्ट्रेलिया

मेरिस पेन ऑस्ट्रेलिया की 53वीं रक्षा मंत्री हैं. वे ऑस्ट्रेलिया की पहली महिला रक्षा मंत्री हैं.

उन्होंने 21 सितंबर 2015 को ये जिम्मेदारी संभाली. मेरिस पेन ने कानून की पढ़ाई की है.

न्यू साउथ वेल्स से आने वाली पेन को दो दशक का संसदीय अनुभव है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मारिया डोलोरेस डे कोस्पेडल, स्पेन

मारिया डोलोरेस डे कोस्पेडल स्पेन की रक्षा मंत्री हैं. उन्होंने नंवबर 2016 में रक्षा मंत्री का पदभार संभाला.

52 वर्षीय मारिया स्पेन की पीपल्स पार्टी की महासचिव भी हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रोबर्टा पिनोटी, इटली

इटली की रक्षा मंत्री रोबर्टा पिनोटी ने मॉडर्न लिटरेचर की पढ़ाई की है. वे इटली के हाईस्कूल में शिक्षिका भी रही हैं.

वे साल 2014 से इटली की रक्षा मंत्री का पदभार संभाल रही हैं.

उन्होंने दो दशक पहले इटली की कम्युनिस्ट पार्टी से अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जेनी हेन्निस, नीदरलैंड

जेनी हेन्निस नवंबर 2012 से नीदरलैंड की रक्षा मंत्री हैं.

पीपल्स पार्टी फॉर फ्रीडम एंड डेमोक्रेसी की नेता जेनी इससे पहले ट्रांसपोर्ट और टूरिज्म समिति की सदस्य रह चुकी हैं.

डच संसद में वे लगातार सार्वजनिक सुरक्षा, पुलिस व्यवहार और एलजीबीटी अधिकारों की बात उठाती रही हैं.

इमेज कॉपीरइट BENJAMIN CREMEL/AFP/Getty Images

फ्लोरेंस पार्ली, फ्रांस

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुल मैक्रो ने जब अपनी नई कैबिनेट का गठन किया तो उन्होंने आधे पदों पर महिलाओं को जगह दी.

इसी सिलसिले में सिल्वी गोलार्ड को रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई. लेकिन एक विवाद के बाद सिल्वी गोलार्ड ने इस्तीफ़ा दे दिया.

गोलार्ड के बाद इसी साल 21 जून को फ्लोरेंस पार्ली ने फ्रांस की नई रक्षा मंत्री के तौर पर कार्यभार संभाला है.

बांग्लादेश, दक्षिण अफ्रीका, केन्या जैसे और भी कई देश हैं, जहां रक्षा मंत्रालय की ज़िम्मेदारी महिलाओं के पास हैं.

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के पास ही रक्षा मंत्रालय का प्रभार भी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए