प्रद्युम्न हत्याकांड: सीबीआई जांच की सिफारिश

  • 15 सितंबर 2017

गुरुग्राम के रायन इंटरनेशनल स्कूल में सात साल के बच्चे प्रद्युम्न की हत्या के एक हफ्ते बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर उसके परिवार से मिलने पहुंचे और सीबीआई जांच की सिफ़ारिश की.

प्रद्युम्न की हत्या के बाद स्कूल में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कई सवाल उठ रहे थे. उसके परिवार ने सरकार से मामले की सीबीआई जांच की मांग की थी.

मनोहर लाल खट्टर ने प्रद्युम्न की मां और पिता के साथ मुलाकात की और कहा कि प्रद्युमन की हत्या की जांच सीबीआई से कराई जाएगी.

उन्होंने ये भी कहा कि रायन स्कूल को तीन महीने के लिए राज्य सरकार नियंत्रण में लेगी और डिप्टी कमिश्नर स्कूल की कमियों को ठीक करेंगे.

परिवार से मिलने के बाद मनोहर लाल खट्टर ने कहा, ''मैं परिवार को मिलने आाया हूं. परिवार, बहुत से नेताओं और समाज के कई लोगों ने सीबीआई जांच की मांग की है. हरियाणा पुलिस बहुत अच्छी तरह इसकी जांच कर रही है लेकिन इस मांग को हम मानते हैं और सीबीआई जांच की सिफ़ारिश करेंगे.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर ने कहा, ''मेरी मांग पिंटो ( रायन समूह के सीईओ रायन पिंटो) या किसी व्यक्ति के खिलाफ़ नहीं है, ये बात चाहे रायन हो या देश के किसी भी स्कूल के टॉप प्रबंधन की ज़िम्मेदारी तय करने की है. ताकि कोई भी स्कूल इस तरह की घटना को लेकर सजग रहे.''

इससे पहले प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और हरियाणा सरकार, सीबीएससी और दूसरे संबंधित लोगों को नोटिस जारी करके तीन हफ्तों में जवाब तलब किया था.

स्कूल पर लापरवाही का आरोप

सुप्रीम कोर्ट में दाख़िल याचिका में मांग की गई थी कि कोई ऐसी व्यवस्था क़ायम हो जिसमें इस तरह के मामलों में जवाबदेही तय हो सके.

पिछले हफ्ते स्कूल के बाथरूम में प्रद्युम्न की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी. उसके बाद पुलिस ने स्कूल बस के कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार किया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बच्चे की स्कूल में मौत से गुस्साए लोगों ने रायन स्कूल के बाहर जमकर हंगामा किया था.

लोग स्कूल पर लापरवाही बरतने का आरोप लगा रहे हैं. इस तरह के सवाल उठ रहे थे कि क्या स्कूल में बाहर के स्टाफ़ जैसे कंडक्टर, ड्राइवर वगैरह के लिए अलग से टॉयलेट नहीं था जो वो बच्चे के सेक्शन में घुस पाया. साथ ही कहा जा रहा है कि परिसर में लगे कई सीसीटीवी कैमरे ठीक से काम नहीं कर रहे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे