#100Women में शामिल 10 भारतीय महिलाएं कौन हैं

  • 6 अक्तूबर 2017
100women

बीबीसी की पुरस्कृत #100Women सिरीज़ के ताज़ा सीज़न में चुनी गई महिलाओं में 10 भारतीय शामिल हैं.

अभी तक इस सूची में 60 महिलाओं के नामों की घोषणा हुई है जबकि इस सीज़न के दौरान अक्तूबर में बाकी 40 महिलाओं के नाम जोड़े जाएंगे.

ये सालाना सिरीज़ पूरी दुनिया में महिलाओं को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर केंद्रित है और बदलाव के लिए महिलाओं को प्रोत्साहित करती है.

इसमें कवि रूपी कौर, एसिड हमले की पीड़ित रेशम ख़ान और डांसर-टीवी स्टार जिन जिंग भी शामिल हैं.

आईए जानते हैं, कौन हैं ये 10 भारतीय महिलाएं-

1-उर्वशी साहनी

उर्वशी साहनी (62), स्टडी हॉल एजुकेशनल फ़ाउंडेशन की संस्थापक और सीईओ हैं.

डॉ. उर्वशी साहनी पिछले 34 सालों से एक सामाजिक उद्यमी, महिला अधिकार कार्यकर्ता और शिक्षाविद् की भूमिका में हैं.

शिक्षा के बारे में वो कहती हैं, "शिक्षा बदलाव लाने का एक बहुत ताक़तवर हथियार है, लेकिन बदलाव लाने वाली शिक्षा को भी बदलना होगा."

2-मेहरूनिसा सिद्दिक़ी

मेहरूनिसा सिद्दिक़ी बॉलीवुड के चर्चित अभिनेता नवाज़ुद्दीन सिद्दिक़ी की मां हैं.

पैंसठ साल की घरेलू महिला मेहरूनिसा सिद्दिक़ी का कहना है कि 'सीखने के लिए कभी भी देर नहीं हुआ करती.'

3-इरा त्रिवेदी

Image caption इरा त्रिवेदी

32 साल की इरा त्रिवेदी लेखिका और एक्टिविस्ट हैं.

अपने लेखन, शिक्षण और बिना लाभ के कामों के मार्फत, इरा त्रिवेदी लोगों के दिमाग, शरीर और आत्मा को संवेदनशील करने की उम्मीद करती हैं, ताकि वो खुद को इस पूरी क़ायनात का हिस्सा महसूस कर सकें.

इरा कहती हैं, "हम खुद को जितना समझते हैं, उससे कहीं ज़्यादा हैं. हमारी अंदर की शक्ति बहुत ताक़तवर है. अगर हम बाहर की बजाय अपने अंदर झांके और अपने असीमित क्षमताओं को इस्तेमाल कर सकें तो ये दुनिया, वर्तमान से बहुत अलग हो जाएगी."

4-अदिति अवस्थी

उद्यमी और 'इम्बाइब' की संस्थापक व सीईओ, 35 साल की अदिति शिक्षा में बदलाव की कोशिश कर रही हैं.

'इम्बाइब' के मार्फ़त वो तकनीकी और डेटा विज्ञान का इस्तेमाल कर, शिक्षा में क्रांतिकारी बदलाव लाना चाहती हैं.

वो कहती हैं, "ब्रह्मांड में एक बड़ा बदलाव लाएं. एक सकारात्मक क्रांति का निर्माण करें."

5-प्रियंका रॉय

16 साल की प्रियंका रॉय स्टूडेंट हैं और एक साल पहले पश्चिम बंगाल के रानाघाट से दिल्ली चली आईं. अब वो गोविंदपुरी में टीए कॉलोनी में अपनी मां के साथ रहती हैं.

वो कहती हैं, "मैं पढ़ना और लिखना सीखना चाहती हूं ताकि मैं अपने पैरों पर खड़ी हो सकूं."

6-नित्या थुम्मलशेट्टी

31 वर्ष की नित्या थुम्मलशेट्टी फ़ार्चुनापिक्स की निदेशक हैं.

स्वास्थ्य सेवाओं की उद्यमी और जेंडर एक्सपर्ट नित्या का मानना है कि तकनीकी रचनात्मकता से शिक्षा और स्वास्थ्य में सामाजिक ग़ैरबराबरी को मिटाया जा सकता है.

वो कहती हैं, "आपको लगातार सवाल पूछना होगा, भले ही आज उनके जवाब पता न हों. अगर आप लगातार सवाल नहीं पूछते हैं तो ये भूलना आसान है कि नाइंसाफ़ी और ग़ैरबराबरी कोई सामान्य बात नहीं है."

#100Women: माहवारी के दौरान छुट्टी क्यों?

#100Women: लड़की का 'नहीं', मतलब 'नहीं'

7-तूलिका किरन

तूलिका किरन (47) टीचर और सामाजिक कार्यकर्ता हैं.

तूलिका पिछले आठ सालों से तिहाड़ जेल में बच्चों को पढ़ाती हैं. वो पत्रकार भी रही हैं.

वो कहती हैं, "जो आपसे प्यार करते हैं, उनसे नफ़रत न करें. जिस पर भी आप भरोसा करते हैं, उन्हें धोखा न दें."

8-रूपी कौर

लेखिका और कवयित्री, 24 साल की रूपी कौर ज़िंदगी से जुड़े मुद्दों पर लिखती हैं.

भारतीय-कनाडाई लेखिका रूपी चित्रकार भी हैं. वो प्रेम, बिछोह, सदमा, हीलिंग और महिला मुद्दों पर लिखती हैं.

वो कहती हैं, "हीलिंग का विचार असल में एक अभ्यास का मामला है और आपको लगातार करना होता है."

9-विराली मोदी

25 साल की विराली मोदी, विकलांग अधिकार कार्यकर्ता और यूथ अम्बेसडर हैं.

वो मोटिवेशनल वक्ता, मॉडल और अभिनेत्री भी हैं. वो भारत में रेल को विकलांग लोगों के लिए सुविधाजनक बनाए जाने को लेकर अभियान चला रही हैं.

10-मिताली राज

इमेज कॉपीरइट MITHALI RAJ FB PAGE

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज (34 साल) का कहना है, "मैं सपने देखती हूं, मैं कड़ी मेहनत करती हूं. मैं तब तक मेहनत करती हूं जब तक संतुष्ट न हो जाऊं."

#100Women: पुरुषों की तरह महिला टेनिस खिलाड़ी भी करती हैं त्यागः एंडी मरे


#100Women क्या है?

बीबीसी हर साल पूरी दुनिया की प्रभावशाली और प्रेरणादायक महिलाओं की कहानियां दुनिया को बताता है. इस साल महिलाओं को शिक्षा, सार्वजनिक स्थानों पर शोषण और खेलों में लैंगिक भेदभाव की बंदिशें तोड़ने का मौका दिया जाएगा.

आपकी मदद से ये महिलाएं असल ज़िंदग़ी की समस्याओं के समाधान निकाल रही हैं और हम चाहते हैं कि आप अपने विचारों के साथ इनके इस सफ़र में शामिल हों.

100Women सिरीज़ से जुड़ी बातें जानने और हमसे सोशल मीडिया पर जुड़ने के लिए आप हमारे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक कर सकते हैं. साथ ही इस सिरीज़ से जुड़ी कोई भी बात जानने के लिए सोशल मीडिया पर #100Women इस्तेमाल करें.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे