मुसलमान मज़दूर की हत्या का वीडियो वायरल, अभियुक्त गिरफ़्तार

इमेज कॉपीरइट Video Grab
Image caption पुलिस ने वीडियो में दिख रहे अभियुक्त की पहचान शंभुलाल के रूप में की है.

राजस्थान के राजसमंद में एक व्यक्ति की हत्या का वीडियो वायरल होने के मामले में पुलिस ने अभियुक्त शंभुलाल को गिरफ़्तार कर लिया है.

उदयपुर के महानिरीक्षक आनंद श्रीवास्तव ने बीबीसी से कहा, "अभियुक्त शंभुलाल को आज सुबह गिरफ़्तार कर लिया गया है."

शंभुलाल ने हत्या के वीडियो के अलावा दो और वीडियो शेयर किए हैं जिनमें से एक में वो मंदिर में हैं और हत्या की ज़िम्मेदारी ले रहे हैं जबकि दूसरे वीडियो में वो भगवा ध्वज के सामने बैठे हैं और 'लव जिहाद' और 'इस्लामिक जिहाद' के ख़िलाफ़ भाषण दे रहे हैं.

पुलिस का कहना है कि अभियुक्त और मृतक मोहम्मद अफ़राज़ुल के बीच कोई झगड़ा या संबंध होने की अभी तक की जांच में पुष्टि नहीं हुई है.

पुलिस के मुताबिक मृतक मोहम्मद अफराज़ुल पिछले 12 सालों से शहर में रह रहे थे. वो मूल रूप से बंगाल के रहने वाले थे और राजसमंद में रहकर मज़दूरी करते थे.

आनंद श्रीवास्तव ने बीबीसी से कहा, "अभी तक की जांच में पता चला है कि अभियुक्त शंभुलाल के परिवार में किसी भी महिला ने अंतरजातीय या अंतरधार्मिक विवाह नहीं किया है."

उन्होंने कहा, "अभियुक्त ने वीडियो में नफ़रत फैलाने वाली भाषा का इस्तेमाल किया है. हम लोगों से अपील करते हैं कि इस वीडियो को शेयर न करें."

लव जिहाद पर बच्चों को सीख देना चाहती है राजे सरकार

क्या कश्मीर के लद्दाख़ में हो रहा है 'लव जिहाद'?

इमेज कॉपीरइट Video Grab
Image caption अभियुक्त शंभूलाल ने एक और वीडियो जारी कर हत्या करने की बात स्वीकार की है

उन्होंने कहा, "घटना की संवेदनशीलता को देखते हुए हमने राजसमंद, उदयपुर और आसपास के इलाक़ों में इंटरनेट बंद कर दिया है और भारी तादाद में सुरक्षाबल तैनात किए हैं."

उन्होंने कहा, "घटना की प्रतिक्रिया में कोई घटना न हो इसके लिए दोनों समुदायों के लोगों की बैठक की गई है और हर संभव सुरक्षा के इंतेज़ाम किए गए हैं."

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिसमें नज़र आ रहा है कि एक व्यक्ति पर धारदार हथियार से हमला कर उन्हें आग लगा दी गई है.

...फिर तो हर शादी लव जिहाद है

हदिया विवाद: केरल में धर्म बदलकर शादी का सच क्या?

'लव जिहाद'का बदला

अभियुक्त ने वीडियो में कहा है, "ये तुम्हारी हालत हो गई. ये लव जिहाद करते हो हमारे देश में. ये तुम्हारे हर जिहादी की हालत होगी. लव जिहाद बंद कर दो."

अभियुक्त ने हत्या के वीडियो के अलावा दो और वीडियो जारी किए हैं जिनमें से एक में उन्होंने हत्या की बात कही है और मेवाड़ी समुदाय के सामने अदालत में पेश होने की बात कही है.

दूसरे वीडियो में भगवा ध्वज के सामने बैठे अभियुक्त शंभूलाल के साथ एक कम उम्र लड़की भी है और वो लव जिहाद और इस्लामिक जिहाद के ख़िलाफ़ भाषण दे रहे हैं.

वीडियो शेयर न करने की अपील

पुलिस महानिरीक्षक आनंद श्रीवास्तव ने आम लोगों और मीडिया संस्थानों से वीडियो को शेयर न करने की अपील की है.

उन्होंने कहा, "ये भड़काऊ वीडियो शेयर करने से बचें और सामाजिक सौहार्द बनाए रखें. हमने देखा है कि कुछ चैनल भी इस वीडियो को दिखा रहे हैं. मीडिया के लोग स्वयं समझदार हैं और उन्हें ज़िम्मेदारी दिखानी चाहिए."

आनंद श्रीवास्तव के मुताबिक फिलहाल पुलिस ने अभियुक्त पर क़त्ल की धाराओं में मुक़दमा दर्ज किया है और उस पर अन्य क़ानूनों के तहत मुक़दमा दर्ज करने पर भी विचार किया जा सकता है.

घटना के वीडियो वायरल होने के बाद राजस्थान सरकार ने एसआईटी गठित करने के आदेश दे दिए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे