मध्य प्रदेश के खुशहाली मंत्री की हत्या के मामले में तलाश

  • 14 दिसंबर 2017
लाल सिंह आर्य इमेज कॉपीरइट LAL SINGH ARYA
Image caption लाल सिंह आर्य

मध्य प्रदेश सरकार के ख़ुशहाली मंत्री हत्या के एक मामले में वांछित हैं. बुधवार को पुलिस ने इसकी जानकारी दी.

53 साल के लाल सिंह आर्य की गिरफ़्तारी के आदेश मंगलवार को अदालत ने दिए थे. तब से वह लापता हैं.

वह 2009 में एक विपक्षी नेता की हत्या के एक मामले में संदिग्ध हैं. हालांकि उन्होंने आरोपों से इनकार किया है.

मध्य प्रदेश देश का पहला और इकलौता राज्य है, जहां नागरिकों की खुशहाली में इज़ाफ़ा करने के लिए अलग से ख़ुशहाली विभाग है.

इमेज कॉपीरइट PRAKASH HATVALNE
Image caption खुशहाली से जुड़े कार्यक्रमों में हिस्सा लेने वालों को यह विभाग प्रमाण पत्र देता है

प्रदेश की भाजपा सरकार ने जुलाई 2016 में यह विभाग बनाया था. यह विभाग प्रदेश के खुशहाली संस्थान की मदद से 'खुशहाली के टूल विकसित करने के लिए' काम करता है. इनके साथ हज़ारों की संख्या में 'खुशहाली वॉलंटियर' काम करते हैं जो इस विषय पर ज्ञानपरक कार्यक्रम करवाते हैं.

लाल सिंह आर्य खुशहाली विभाग के साथ पांच और विभागों के मंत्री हैं, जिनमें उड्डयन, प्रशासन और अनुसूचित जाति और जनजाति कल्याण भी शामिल हैं.

19 दिसंबर को उन्हें अदालत में पेश होना है.

स्थानीय पुलिस ने एएफ़पी को बताया, "पुलिस की टीमें उनकी तलाश कर रही हैं. हम तब तक उन्हें खोज लेंगे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे