प्रेस रिव्यू: पूर्व केंद्रीय मंत्री पर पुलिसवाले ने तानी बंदूक

  • 16 दिसंबर 2017
इमेज कॉपीरइट Getty Images

कांग्रेस सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ पर एक पुलिसकर्मी द्वारा बंदूक तानने का मामला सामने आया है.

दैनिक जागरण के अनुसार, शुक्रवार शाम को मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में शिकारपुर हवाई पट्टी पर पुलिसकर्मी रत्नेश पवार ने कमलनाथ पर बंदूक तान दी.

पुलिसकर्मियों ने रत्नेश को पकड़ लिया लेकिन उसने फिर उन पर बंदूक तान दी. उस समय कमलनाथ के सुरक्षकर्मी उनके साथ नहीं थे.

एएसपी नीरज सोनी ने बताया है कि पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया गया है और उसके ख़िलाफ़ विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

ट्रिपल तलाक़ पर क़ानून

शुक्रवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मुस्लिम महिला (शादी पर अधिकार की सुरक्षा) बिल को मंज़ूरी दे दी.

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के अनुसार, इस बिल को संसद से मंज़ूरी मिलने के बाद मुस्लिम महिलाओं को ट्रिपल तलाक़ के ख़िलाफ़ लड़ाई का एक हथियार मिल जाएगा. इस बिल के तहत ट्रिपल तलाक़ देने वाले व्यक्ति को तीन साल तक की सज़ा हो सकती है.

इस बिल को संसद से अगर मंज़ूरी मिल जाती है तो तलाक़-ए-बिद्दत के मामलों में किसी मौलवी की कोई भूमिका नहीं रहेगी और महिला ख़ुद ही पुलिस के पास जा सकती है.

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद का कहना है, "यह क़ानून तीन तलाक़ की बेसहारा पीड़िताओं को एक सुरक्षा कवच देता है." हालांकि, उन्होंने इस बिल की और जानकारी देने से इनकार किया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

2020 तक दिल्ली में अब कोई तोड़फोड़ नहीं

राजधानी दिल्ली में अनाधिकृत कॉलोनियों और गांवों के बाहरी हिस्सों में हुए निर्माण आदि में तोड़फोड़ अब दिसंबर 2020 तक नहीं हो सकेगी.

नवभारत टाइम्स ने बताया है कि केंद्रीय कैबिनेट ने शुक्रवार को एनसीआर दिल्ली (लॉ) स्पेशल प्रोविज़न बिल 2017 को मंज़ूरी दे दी. यदि यह बिल नहीं आता तो सिविक एजेंसियों को अनधिकृत कॉलोनियों और गांवों के बाहरी हिस्सों के निर्माण को ढहाने का अधिकार मिल जाता.

हालांकि, 1 जून 2014 के बाद के बाद हुए निर्माण कार्य को इससे राहत नहीं मिली है. दरअसल, 2006 में जब तोड़फोड़ और सीलिंग शुरू हुई थी, उसके बाद तत्कालीन यूपीए सरकार ने 2007 में ऐसा बिल पारित किया था. इससे इन संपत्तियों को सुरक्षा कवच मिल गया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

कर्नाटक सरकार ने नए साल की पूर्व संध्या पर बेंगलुरु में बॉलीवुड अभिनेत्री सनी लियोनी के एक कार्यक्रम को अनुमति नहीं दी है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के अनुसार, कर्नाटक सरकार ने कानून व्यवस्था बिगड़ने के डर से सनी लियोनी के कार्यक्रम को अनुमति नहीं दी है.

गृह मंत्री आर. रामालिंगा रेड्डी ने कहा है कि नए साल की पिछली पूर्व संध्या पर एमजी रोड पर छेड़छाड़ का मामला सामने आया था जिसके बाद कर्नाटक हाईकोर्ट ने दिशानिर्देश जारी किए थे इसको भी ध्यान में रखकर यह फैसला लिया गया है.

वहीं, आयोजकों का कहना है कि उन्हें अभी आधिकारिक रूप से पुलिस की तरफ़ से कोई आदेश नहीं मिला है. उनका कहना है कि अगर उन्हें कोई आदेश मिलता है तो उसके बाद वह कार्यक्रम रद्द करने की घोषणा करेंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

आंखों के लिए चाय फ़ायदेमंद

एक शोध के अनुसार, रोज़ एक कप चाय से आंखों की रोशनी को कमज़ोर होने से रोका जा सकता है.

हिंदुस्तान की ख़बर के अनुसार, चाय पीने से ग्लूकोमा के ख़तरे को भी दूर किया जा सकता है. ब्रिटेन में प्रकाशित हुए शोध में कहा गया है कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ इंसान की आंखों की रोशनी कम होती है लेकिन चाय से इसमें सुधार होता है.

1600 से अधिक लोगों पर यह शोध किया गया है. हालांकि, कुछ विशेषज्ञों ने इसकी आलोचना भी की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए