प्रेस रिव्यू: यूपी सरकार ने हिंदू तीर्थयात्रियों की मुफ़्त यात्रा योजना रद्द की

  • 20 दिसंबर 2017
इमेज कॉपीरइट @CMOfficeUP

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी सरकार के कार्यकाल में शुरू की गई श्रवण यात्रा योजना को रद्द कर दिया है.

द हिंदू में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश विधानसभा में उठे एक प्रश्न का उत्तर देते हुए राज्य के धार्मिक मामलों के मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने ये जानकारी दी है. उन्होंने कहा है कि जनहित में इस योजना को रद्द किया जा रहा है.

साल 2015 में शुरू हुई इस योजना के तहत राज्य के बुज़ुर्ग हिंदू तीर्थयात्रियों के लिए धार्मिक स्थलों के लिए मुफ़्त यात्रा का प्रावधान था. मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा है कि सरकार की इस योजना को फिर से चालू करने का कोई इरादा नहीं है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption राजस्थान में फ़िल्म पद्मावती का व्यापक विरोध हुआ था.

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान सरकार उदयपुर में राजपूत रानी पद्मावती की प्रतिमा लगाएगी. फ़िल्म पद्मवती के ख़िलाफ़ राजस्थान के कई इलाक़ों में उग्र प्रदर्शन हुए थे जिनके बाद फ़िल्म की रिलीज़ टाल दी गई है.

पद्मावती को कुछ इतिहासकार मिथक किरदार मानते हैं जबकि राजस्थान का राजपूत समुदाय उन्हें वास्तविक रानी मानता है. उदयपुर के मेयर चंद्र सिंह ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया है कि शहर के नौ चौकों पर मेवाड़ के नौ नायकों की प्रतिमाएं लगाई जाएंगी. ये प्रतिमाएं अगले तीन महीनों में तैयार हो जाएंगी.

इमेज कॉपीरइट EPA

द इंडियन एक्प्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में आवारा पशुओं से परेशान किसानों को बड़ी राशि फसलों की सुरक्षा पर ख़र्च करनी पड़ रही है. रिपोर्ट के मुताबिक किसान आवार पशुओं से परेशान हैं और अपनी फसलों की रक्षा के लिए उन्हें कंटीली तारें लगानी पड़ रही है.

किसानों का कहना है कि बीते दो-तीन साल से पशु व्यापारी पशु ख़रीदने नहीं आ रहे हैं जिसकी वजह से किसान अनुपयोगी पशुओं को खुला छोड़ दे रहे हैं. कृषि अधिकारी भी आवारा पशुओं को किसानों के लिए बड़ी समस्या मान रहे हैं.

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं के स्कूलों को क्रिसमस न मनाने की धमकी देने के बाद सरकार को पुलिस से सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहना पड़ा है. हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक सभी ज़िले के पुलिस प्रमुखों को क्रिसमस पर्व पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं.

पुलिस महानिदेश क़ानून व्यवस्था आनंद कुमार ने सभी ज़िलों के पुलिस अधिकारियों से कहा है कि धार्मिक अल्पसंख्यकों के संवैधानिक अधिकारों की सुरक्षा की जाए. क़ानून तोड़ने वालों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए गए हैं. अलीगढ़ में हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने स्कूलों से ईसाई त्यौहार क्रिसमस को न मनाने के लिए कहा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे