प्रेस रिव्यूः 'सीएम योगी ने योगी को माफ़ किया'

  • 27 दिसंबर 2017
योगी इमेज कॉपीरइट Getty Images

इंडियन एक्सप्रेस की एक ख़बर के अनुसार, उत्तर प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ख़िलाफ़ सभी मामले रद्द करने का फ़रमान जारी किया है.

विधानसभा में 21 दिसंबर को उत्तर प्रदेश क्रिमिनल लॉ (कंपोजिशन ऑफ़ ऑफ़ेंसेज एंड एबेटमेंट ऑफ़ ट्रायल्स) संशोधन बिल पेश किए जाने के एक दिन पहले ये आदेश जारी किया गया. योगी आदित्यनाथ पर 1995 में निषेधाज्ञा के उल्लंघन का मामला दर्ज है.

गोरखपुर के पिपीगंज पुलिस थाने में ये केस दर्ज किया गया था, जिसकी स्थानीय अदालत में सुनवाई चल रही थी, जिसमें कोर्ट ने गैरज़मानती वारंट भी जारी कर चुकी है. इस मामले को वापस लेने संबंधित यूपी सरकार का आदेश 20 दिसम्बर को ज़िलाधिकारी को भेजा गया.

इमेज कॉपीरइट NArendramodi.in

द स्टेट्समैन की एक ख़बर के अनुसार, नवंबर में जीएसटी कलेक्शन अपने निम्नतम 80 हजार करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया है. अक्टूबर में ये कलेक्शन 83 हज़ार करोड़ रुपये हुआ था. कुछ दिन पहले ही दर्जनों वस्तुओं पर जीएसटी के रेट में कटौती की गई थी.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की एक ख़बर के अनुसार, स्वच्छता को लेकर लगाए गए केंद्र सरकार के टैक्स का एक चौथाई हिस्सा स्वच्छता फंड में ट्रांसफ़र नहीं किया गया है. कैग ने कहा है कि इस मद में सरकार के खाते में कुल 14,600 करोड़ रुपये इकट्ठा हुए हैं, लेकिन इसमें 4,000 करोड़ रुपये अभी भी निर्धारित कोष में जमा नहीं कराए गए.

कैग के मुताबिक इस तरह से सेस लगाकर इकट्ठा किए गए कुल धन का लगभग आधा हिस्सा निर्धारित कोषों में जमा नहीं कराए गए हैं. कैग के अनुसार, 2006-2007 से 2016-17 के बीच सरकार ने शिक्षा के मद में 83,497 करोड़ रुपये इकट्ठा किए लेकिन इसमें से एक रुपया भी निर्धारित मद में जमा नहीं किया गया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

हिंदुस्तान टाइम्स की एक ख़बर के अनुसार उत्तर प्रदेश के उन्नाव ज़िले में सोमवार की रात, कम से कम 32 नसबंदी आपरेशन टॉर्च की रोशनी में किए गए. नवाबगंज के प्राथमिक चिकित्सा केंद्र पर हुए आपरेशन की सूचना के बाद ज़िले के शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारी पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की एक अन्य ख़बर के अनुसार, नियमों की अनदेखी करने पर महाराष्ट्र में 60 हज़ार ट्रस्टों का पंजीकरण समाप्त कर दिया गया है और एक लाख 30 हज़ार ट्रस्टों को नोटिस दिया गया है. इन चैरिटेबल अस्पतालों पर कम दरों पर ग़रीबों का इलाज़ न करने और महाराष्ट्र पब्लिक ट्रस्ट एक्ट के उल्लंघन के आरोप हैं.

द हिंदू की ख़बर के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में जय राम ठाकुर के शपथ ग्रहण समारोह में आज प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री और कई राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल होंगे. इसके अलावा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और लाल कृष्ण आडवाणी भी शामिल होंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए