प्रेस रिव्यू: पाकिस्तान के बाद ट्रंप के रडार में भारत?

  • 3 जनवरी 2018
डोनल्ड ट्रंप इमेज कॉपीरइट Getty Images

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप एच-वन बी वीज़ा के नियमों को बदलने पर विचार कर रहे हैं.

अगर ये नियम बदलता है तो एच-वन बी वीज़ा के साथ अमरीका में काम कर रहे विदेशियों पर असर होगा, जिसके तहत वीज़ा को नहीं बढ़ाया जाएगा.

इस बदलाव का असर 7 लाख 50 हज़ार भारतीयों पर भी पड़ेगा. एच-वन बी वीज़ा का मुद्दा ट्रंप के चुनावी वादों में शामिल रहा था.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अमर उजाला की ख़बर के मुताबिक, अमरीका की पाकिस्तान पर सख्ती के बाद मदद के लिए चीन आगे आया है.

चीन ने कहा है कि दुनिया को आतंकवाद के ख़िलाफ पाकिस्तान के बलिदान को स्वीकार करना चाहिए. चीन ने अमरीका के सख्त रुख के बावजूद पाकिस्तान की तारीफ की है.

चीन ने कहा है कि पाकिस्तान दक्षिण एशिया में शांति और स्थिरता की दिशा में हरसंभव कोशिश कर रहा है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक, अब ताजमहल का दीदार एक दिन में सिर्फ 20 हज़ार पर्यटक ही कर पाएंगे.

इसके साथ ही एक पर्यटक को ताजमहल घूमने के लिए तीन घंटे ही मिलेंगे. आर्कियोलॉजिलकल सर्वे ऑफ इंडिया इन नए नियमों पर गंभीरता से विचार कर रहा है.

केंद्रीय संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने अख़बार को बताया है कि इसे लेकर कुछ नियम एएसआई ने अपने प्रस्ताव में बताए हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जनसत्ता की ख़बर के मुताबिक, केंद्र सरकार राजनीतिक दलों को चंदे के लिए चुनावी बॉन्ड लाने जा रही है.

इस चुनावी बॉन्ड पर देने वाले का नाम नहीं होगा. इसे केवल अधिकृत बैंक खाते के जरिए 15 दिन के भीतर भुनाया जा सकेगा.

सरकार इसे राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे की प्रक्रिया में पारदर्शिता सुनिश्चित करने की दिशा में अहम क़दम मान रही है.

दैनिक भास्कर की ख़बर के मुताबिक, शादी 30 से 34 की उम्र में करने पर तलाक़ की संभावना सबसे कम 10 फीसदी रह जाती है.

अख़बार लिखता है कि 35 की उम्र के बाद शादी करने पर पहले पांच साल में तलाक़ होने का ख़तरा 17 फीसदी तक कम हो जाता है.

ये नतीजे अमरीका की यूनिवर्सिटी ऊटा (यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्सस ऐट अर्लिंग्टन) ने सात साल तक किए शोध से निकाले हैं. रिसर्च में पता चला कि 20 की उम्र से पहले शादी करने पर तलाक़ का जोखिम सबसे ज़्यादा 38 फीसदी रहता है.

मोदी को क्यों पसंद हैं 'नॉन परफॉर्मिंग' जेटली?

पाकिस्तान को अरबों डॉलर देना बेवकूफ़ी थी: ट्रंप

'ताजमहल को मुसलमान ने बनवाया, इसलिए नज़रअंदाज़'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे