सोशल: यूएन में भारत के प्रतिनिधि के ट्विटर अकाउंट पर पाक का झंडा

  • 15 जनवरी 2018
सैयद अकबरुद्दीन, ट्विटर इमेज कॉपीरइट TWITTER/@AkbaruddinIndia

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन का ​ट्विटर अकाउंट हैक किए जाने का मामला सामने आया है.

अकबरुद्दीन ने ख़ुद ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी है.

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, ''मैं वापस आ गया हूं. मुझे झुकाने के लिए सिर्फ़ हैक करना काफ़ी नहीं है. धन्यवाद ट्विटर इंडिया और सभी लोग जिन्होंने मदद की.''

हैकर्स ने कैसे चुराए 500 करोड़ के बिटक्वाइन?

बताया जा रहा है कि सैयद अकबरुद्दीन का अकाउंट हैक होने के बाद उनके नाम के सामने से ब्लू टिक भी हट गया था.

फिर उनके अकाउंट से कई ट्वीट किए गए. उनके अकाउंट से पाकिस्तान के झंडे और राष्ट्रपति ममनून हुसैन की तस्वीर पोस्ट की गई.

इसके अलावा अकाउंट से तुर्की भाषा में कुछ संदेश भी ट्वीट किए गए.

हालांकि, कुछ समय बाद अकाउंट ठीक हो गया और वापस उस पर ब्लू टिक वापस आ गया. अकाउंट से तस्वीरें और अन्य ट्वीट हटा दिए गए.

इमेज कॉपीरइट TWITTER/@AkbaruddinIndia

अकबरुद्दीन का अकाउंट ठीक होने के बाद लोग उनके ट्वीट पर प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं.

कुछ लोगों ने हैकिंग के लिए पाकिस्तान को ज़िम्मेदार ठहराया. वहीं, तुर्की में ट्वीट होने के कारण हैकर्स को तुर्की का भी बताया जा रहा है.

एक यूज़र 'चंद्रेश्ट' ने ट्वीट किया, ''जहां भारत ने ऑर्बिट में 100 सैटेलाइट भेजकर शतक बनाया है, वहां पाकिस्तान अब भी हैकिंग-हैकिंग खेल रहा है.''

यूज़र 'डॉ. सुगंधा' ने कहा, ''आपका अकाउंट हैक होने का मतलब है कि आप बहुत बेहतरीन काम कर रहे हैं और जहां ज़रूरी है वहीं हिट कर रहे हैं.''

कई लोगों ने सैयद अकबरुद्दीन की ट्विटर पर फिर से वापसी होने पर उनका स्वागत भी किया.

ट्विटर अकाउंट और सरकारी वेबसाइटें पहले भी कई बार हैक हो चुकी हैं. पिछले साल जनवरी में राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड की वेबसाइट को भी हैक कर लिया गया था.

इसके बाद फरवरी 2017 में गृह मंत्रालय की वेबसाइट के हैक होने की भी खबरें आई थीं लेकिन तुंरत ही वेबसाइट को ब्लॉक कर दिया गया था. साल 2016 में भारतीय रेलवे की वेबसाइट को भी हैक किया जा चुका है.

शनिवार को सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने साइबर चुनौती को लेकर चिंता जताई थी. उन्होंने कहा था कि भारतीय सुरक्षा बल इस ओर ज़्यादा ध्यान दे रहे हैं, यह सुनिश्चित करने की कोशिश की जा रही है कि अच्छे फायरवॉल हों और उन्हें हैंडल करने की क्षमता हो.

नंगी तस्वीरें मांगता है ये वायरस

'सरकार प्रायोजित हैकर्स ने चुराए डाटा'

न्यूड तस्वीरें क्यों भेज रही हैं लड़कियां?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे